मत देना अधिकार ही नही कर्तव्य भी


आज हमारे देश मे लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण का मतदान हो रहा है। आज 16 राज्यों की 117 सीटों पर मतदान होगा।
Photo/Loktej

आज हमारे देश मे लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण का मतदान हो रहा है। आज 16 राज्यों की 117 सीटों पर मतदान होगा। जिसमे हमारे राज्य गुजरात की सभी 26 सीट भी शामिल है। सीटों की संख्या के लिहाज से ये सबसे बड़ा चरण हैं और इस चरण के बाद 303 यानि आधी से ज्यादा सीटों का मतदान पूरा हो चुका होगा। यही नहीं इस बार बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों के अध्यक्ष समेत बड़े-बड़े दिग्गजों की किस्मत का फैसला होगा। गुजरात, केरल और गोवा में इलेक्शन पूरा हो जाएगा। इस चरण में वेल्लोर और पूर्वी त्रिपुरा की सीटें भी शामिल हैं जहां मतदान टाल दिया गया था। वेल्लोर में काफी पैसा जब्त किया गया था इसलिए और पूर्वी त्रिपुरा में कानून-व्यवस्था को देखते हुए मतदान टाल दिया गया था।

हमारे सूरत को लगती हुई तीनो सीट के लिए भी आज ही मतदान है। यहां पर भाजपा तथा कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला है। हालांकि इसमें से दो सीट भाजपा के लिए सुरक्षित सीट है जहाँ पर पिछली बार भाजपा के उम्मीदवार रिकॉर्ड वोट से जीते थे। गुजरात की अगर बात करे तो नवसारी सीट की लीड दूसरी बड़ी थी और सूरत की तीसरी बड़ी लीड थी। अखिल भारतीय स्तर पर यह क्रमशः तीसरे तथा चौथे क्रमांक पर रही थी। इस बार भी भाजपा ने उन्ही पुराने उम्मीदवारों पर विश्वास जताकर टिकिट दिया है जबकि कांग्रेस ने दोनो सीट पर नए चेहरे उतारे है। जहां तक प्रचार की बात है तो इस बार कांग्रेस द्वारा न के बराबर प्रचार किया गया जबकि भाजपा ने भी पिछली बार की अपेक्षा इस बार प्रचार पर कम किया है।

अब बात करते है मतदान की। मतदान जिसके बारे में कहा जाता है कि यह हमारा अधिकार है परन्तु दरअसल वो हमारा कृतव्य है। राष्ट्र के सर्वांगीण विकास के लिए योग्य प्रतिनिधि का चयन करना जरूरी है। हमारे देश मे काफी जगह देखने को मिलता है कि जिस जाति अथवा धर्म के मतदाताओं का बाहुल्य होता है पार्टीया उसी जाति के व्यक्ति को अपना उम्मीदवार बनाती है। उसके पश्चात मतदाता भी यही देखते हुए वोट देते है। जो कभी कभी गलत फैसलों का कारक बनती है।

अगर सभी मतदाता राष्ट्रहित को देखते हुए मतदान को कृतव्य समझकर करे तो हमारे देश की तस्वीर ही अलग होगी। मतदान देश के भविष्य को सुदृढ करने के लिए उतना ही जरूरी है जितना शरीर के लिए जलपान। अगर हम वोट नही देंगे तो हो सकता है गलत व्यक्ति हमारा प्रतिनिधि बन जाये। इसलिए मतदान जरूर करे।

मतदान करे अच्छे भविष्य के लिए, मतदान करे स्थिर सरकार के लिए, मतदान करे राष्ट्र की सुरक्षा के लिए, मतदान करे आतंकवाद को निपटाने के लिए, मतदान करे सेनाओं के सबल होने के लिए, मतदान करे सिर्फ अधिकार समझकर नही बल्कि कर्तव्य समझकर। मतदान करे भारत माता के परम वैभव के लिए।

सर्व आश्रयदात्री भारत माता की जय