सोहराबुद्दीन एनकाउंटर : पूर्व डीजीपी पांडेय को क्लीन चिट


नई दिल्ली। सोहराबुद्दीन फर्जी एनकाउंटर मामले में गुजरात के पूर्व डीजीपी पीसी पांडेय को सीबीआई कोर्ट से क्लीन चिट मिल गई है। १९७२ बैच के आइपीएस ऑफिसर पीसी पांडेय इस फर्जी एनकाउंटर मामले में आरोपी नंबर ३५ थे। पिछले दिनों भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का भी नाम इस मामले से हटा दिया गया था।
बताया जा रहा है कि सोहराबुद्दीन फर्जी एनकाउंटर मामले में सीबीआई ने पीसी पांडेय को सभी आरोपों से मुक्त कर दिया गया। सीबीआइ कोर्ट ने यह कहते हुए पांडेय को केस से बरी कर दिया कि इस मामले में उन पर केस चलाने के लिए सरकार की अनुमति नहीं ली गई थी, इसलिए उनपर कोई केस नहीं बनता। सोहराबुद्दीन मामले में पांडेय पर आरोप था कि उन्होंने गुजरात का डीजीपी रहते हुए मामले को दबाने और जांच को धीमा करने की कोशिश की। लेकिन कोर्ट ने कहा कि पांडेय ने जो भी आदेश दिए थे वे उनके अधिकार क्षेत्र में आते थे, पद का दुरूपयोग करने का मामला तो बनता ही नहीं है। गौरतलब है कि सीआरपीसी की धारा १९७ के मुताबिक पुलिस ऑफिसर से पूछताछ की जा सकती है, लेकिन पीसी पांडेय के मामले में ऐसा नहीं किया गया। पांडेय को २००६ में डीजीपी के पद पर नियुक्त किया गया था।