सूरत : कांग्रेस ने कलेक्ट्रालय का घेराव किया


नोटबंदी के खिलाफ रैली निकालकर विरोध प्रदर्शन 
सूरत। शहर कांग्रेस द्वारा नोटबंदी के विरोध में कलेक्ट्रायल का घेराव किया गया। गुरूवार को दोपहर पौने बारह बजे अठवागेट स्थित वनिता विश्राम से कांग्रेस ने विशाल रैली निकालकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। कांग्रेस अग्रणियों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर नोटबंदी का विरोध किया। इस दौरान गुजरात प्रदेश कांग्रेस अग्रणी एवं प्रभारी बदरूद्दीन शेख, प्रदेश कांग्रेस कोर कमिटी के सदस्य कदीर पीरजादा, सूरत शहर कांग्रेस प्रमुख हसमुख देसाई सहित पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता भारी संख्या में मौजूद रहे।
कलेक्टर को सौंपे गए आवेदन पत्र में कांग्रेस ने बताया कि नोटबंदी से आम जनता की परेशानी बढ़ गयी है। देश का विकास ठप्प हो गया है। 500-1000 के पुराने नोट बैंक में जमा कराने के बाद लोगों को उनके पैसे नहीं मिल रहे हैं। नोटबंदी को 50 दिन पूरा होने के बाद लोगों की मुश्किलें ज्यों की त्यों बनी हुई हैं। बैंक और एटीएम में रूपए निकालने वालों की भीड़ कम नहीं हो रही है। नोटबंदी के कारण लोगों का रोजगार छिन गया है। छोटे-छोटे उद्योग-धंधों का व्यापार 40 से 50 प्रतिशत तक घट गया है। शहर के टेक्सटाइल और हीरा उद्योग को भारी नुकसान हुआ है।
कांग्रेस ने नोटबंदी से कितना कालाधन बाहर आया, कितने नोट जमा हुए तथा सरकार को होने वाले फायदे को घोषित करने की मांग की है।