सूरत : पीएसआई के खिलाफ दलित युवक की हत्या का मामला दर्ज


 

सूरत। चौक बाजार मोटीवेड नायका फलिया के मृतक युवक के पिता ने स्मीमेर होस्पिटल में एसीपी बरंडा से लिखित में शिकायत की। एसीपी बरंडा ने पीएसआई तथा पुलिस स्टाफ के खिलाफ शिकायत दर्ज करने का आदेश दिया।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कतारगाम अंबातलावडी अंकुर विद्यालय गीरना मोहल्ले में मगनभाई देवजीभाई मकवाणा रहते हैं। मगनभाई का पुत्र महेन्द्र मकवाणा मोटीवेड से होकर जा रहा था तभी चौक बाजार थाने के सब इंस्पेक्टर तथा पुलिस टीम ने जबरदस्ती उसकी पिटाई शुरु कर दी। पुलिस की पिटाई से महेन्द्र की मौत हो गयी। सोमवार को सुबह मृतक महेन्द्र का फोरेन्सिक पोस्ट मार्टम किया गया। मृतक के पिता मगनभाई मकवाणा ने एडवोकेट जमीर शेख के साथ स्मीमेर होस्पिटल में एसीपी बरंडा से लिखित शिकायत की। मृतक के पिता ने कहा कि पुलिस ने सबसे पहले एफआईआर दर्ज करने से इंकार कर दिया। सामाजिक अग्र्रणियों और स्थानीय लोगों के दबाव में पुलिस पोस्ट मार्टम कराने को तैयार हुई। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर नजर डाले तो सबसे पहले एफआईआर दर्ज करना अनिवार्य है। एफआईआर के बाद ही मामले की जांच हो सकती है। इसके बाद स्थानीय लोगों और गवाहों का बयान लिया जाता है। पुलिस सब इंस्पेक्टर के सिर में चोट लगी और तुरंत एफआईआर दर्ज हो गयी। जबकि एक युवक की मौत के बाद भी पुलिस एफआईआर दर्ज करने से आनाकानी करती रही। एसीपी बरंडा को सौंपी गयी शिकायत में पुलिस सब इंस्पेक्टर और स्टाफ के खिलाफ एट्रोसिटी दाखिल करने की मांग की गयी है। पुलिस आयुक्त आशिष भाटीया की सूचना के अनुसार चौक बाजार पुलिस थाने में मृतक महेन्द्र मकवाना के पिता मगन भाई की शिकायत दर्ज की गई। चौक बजार पीएसआई पटेल के खिलाफ महेन्द्र मकवाना की हत्या एवं एट्रोसिटी की घारा के तहत मामला दर्ज कर चौक बाजार पुलिस ने कार्यवाही शुरू की है।