समाज के गद्दारों को सामने लाने आक्रामक नीति बनेगी : एसपीजी


पाटीदार आरक्षण आंदोलन मेंं फूट डालने के पीछे कांग्रेस की चाल होने का आरोप लगाते हुए एसपीजी प्रदेश उपाध्यक्ष पूर्वीन पटेल ने कहा कि आगामी शुक्रवार को होने वाली एसपीजी बैठक में पाटीदार गद्दारों को सामने लाने और आरक्षण आंदोलन को आक्रामक बनाने की रणनीति तैयार की जाएगी।
लालजी का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया गया
गत दिनों महेसाणा में आयोजित महिला सम्मेलन में अपमानित किए जाने केबाद एसपीजी प्रमुख लालजी पटेल ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। इस मामले मेंं पूर्वीनभाई ने बताया कि लालजी का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया गया है। शुक्रवार को होने वाली बैठक मेंं लालजी को प्रमुख पद पर नियुक्त करने का प्रस्ताव लाया जाएगा। लालजी पटेल से इस्तीफा वापस न लेने पर एससीपी के कार्यकर्ता आत्मविलोपन की धमकी दे रहे हैं।
आंदोलन मेंं फूट डालने अलग-अलग फार्मूला
पाटीदार आंदोलन में फूट डालने के लिए कांग्रेस द्वारा अलग-अलग फार्मूला अपनाया जा रहा है। पाटीदारों में फूट डालकर 2017 के विधानसभा चुनाव तक पाटीदार आंदोलन को यथावत रखने और पाटीदारों को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। कांग्रेस के साथ मिलकर पाटीदारों से गद्दारी करने वालों के खिलाफ आक्रामक रणनीति तैयार की जाएगी। समाज को न्याय दिलाने के लिए एसपीजी पिछले 17 सालों से काम रहा है। कुछ गद्दार पाटीदार समाज को गलत रास्ते पर ले जाने और राजनीतिक रोटी सेंकने के लिए गुजरात की शांति को भंग करने का प्रयास कर रहे हैं।
शुक्रवार को होगी बैठक
शुक्रवार को महेसाणा जिले के बलोल मेंं एसपीजी के कार्यकारिणी की बैठक होगी। जिसमेंं प्रदेश के पदाधिकारी और एसपीजी के महत्वपूर्ण अग्रणी उपस्थित रहेंगे। आंदोलन के बारे मेंं पूर्वीन पटेल ने कहा कि मध्यस्थता की भूमिका निभाने वाले समाज के अग्रणियोंं के साथ भी चर्चा की जाएगी। इसकेबाद बुजुर्गो और विविध अदालतों के वकीलों, निवृत्त जजों से चर्चा करने के बाद आंदोलन को आगे बढ़ाया जाएगा।