बैशाख मेंं बदरी देख, सिर पर हाथ रख रोए किसान


दक्षिण गुजरात के मौसम मेंं भारी बदलाव, कहीं रिमझिम तो कहीं झमाझम
सूरत। मौसम के बदले रूख का असर पूरे देश मेंं दिखाई दे रहा है। बैशाख के महीने मेंं सावन की तरह आसमान मेंं काले-घने बादल देख किसानों के होश उड़ गए हैं।आज देर शाम शहर में अचानक 8 मिमी बरसात हुई। किसानो की सालभर की पंूजी बेमौसमी बरसात और बरफ गिरने से खेतोंं मेंं बर्बाद हो रही है। बैशाख के महीने में भयंकर गर्मी पडऩे की बजाय बरसात होने से शहरवासी परेशान हो गए हैं। हवाओंं से शहर सहित दक्षिण गुजरात के तापमान मेंं उतार-चढाव लगातार जारी है। मौसम विभाग के अनुसार गुजरात एवं उसके आसपास स्थिर अपर एयर साइक्लोनिक सर्कुलेशन के कारण भारी से अति भारी बरसात हो सकती है। बेमौसमी बरसात की मार झेलने के लिए किसानों को तैयार रहना होगा। शहर मेंं पिछले दो दिनोंं से आसमान मेंं घने बादल छाए हुए हैं। तेज हवा चलने से तापमान में उतार-चढाव जारी है। मंगलवार को दिनभर आसमान में घने बादल छाए रहे और शाम होते-होते रिमझिम बरसात होने लगी। तापमान मेंं गिरावट आने से शहरवासियोंं को भयंकर गर्मी से राहत मिली है।