घटना के 11 दिन बाद उना पहुंची आनंदीबेन ने पुलिस जवान की मौत पर कुछ नहीं बोला!


अहमदाबाद। उना के समढियाण में दलित अत्याचार के 11 दिन बाद घटनास्थल और राजकोट के सिविल होस्पिटल में उपचार करा रहे दलितों से मुख्यमंत्नी आनंदीबेन पटेल ने मुलाकात कर उनका हालचाल पूछा। राहुल गांधी और केजरीवाल के आने से एक दिन पहले ही आनंदीबेन आनन-फानन में उना पहुंच गयी। स्थल पर पहुंची आनंदीबेन पटेल को दलित तो याद आए लेकिन पथराव में जान गंवाने वाले पुलिस जवान को भूल गयी। आनंदीबेन ने दलित अत्याचार पर 20 ट्विट किया है लेकिन पुलिस की मौत पर एक भी ट्विट नहीं किया। जानकारी के अनुसार अमरेली एलसीबी के पंकज अमरेलिया पथराव में गंभीर रूप से घायल हो गए थे। उपचार के दौरान पंकज की मौत हो गयी।