आईएसएल : क्या नार्थईस्ट युनाइटेड इस बार अपना भाग्य बदल पाएगी?


Indian Super League. (Photo: Twitter/@IndSuperLeague)

कोलकाता| इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के 2014 में शुरू होने के बाद से अब तक लीग की सभी टीमों ने प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई किया है। लेकिन नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी एकमात्र ऐसी टीम है जो शानदार शुरुआत के बावजूद लीग में अब तक एक बार भी प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाई है। नार्थईस्ट युनाइटेड की टीम दो बार प्लेऑफ में क्वालीफाई करने के करीब पहुंची है। लीग के पहले संस्करण में टीम ग्रुप चरण में शीर्ष पर रही थी, लेकिन वह तीन अंकों से प्लेऑफ में पहुंचने से चूक गई थी।

वर्ष 2015 में लीग के दूसरे संस्करण में पुणे सिटी पर 3-2 की जीत से नार्थईस्ट युनाइटेड के अंतिम-4 में पहुंचने की उम्मीद जगी थी, लेकिन चेन्नइयन एफसी से मिली हार के बाद टीम की यह उम्मीदें धूमिल हो गई थी।

तीसरे संस्करण में शानदार शुरुआत करने और शुरू से ही बढ़त लेने के बावजूद टीम एक बार दो अंकों से प्लेऑफ में पहुंचने से चूक गई थी। चौथे सीजन में सबसे नीचे रहने वाली नार्थईस्ट युनाइटेड ने इस सीजन के लिए अपनी टीम में कई नए विदेशी खिलाड़ियों को शामिल किया है।

मुख्य कोच एल्को शाटोरी और सहायक कोच आर्थर पापस के पास नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी को पहली बार प्लेऑफ में पहुंचाने का दबाव है।

उन्होंने, “यदि आपने कभी क्वालीफाई नहीं किया है तो आपके दबाव होता है। मेरा मानना है कि फुटबॉल में कम बजट और निम्न स्तर के खिलाड़ी मायने नहीं रखते हैं। इसमें कुछ भी संभव है। ताजमहल भी एक दिन में नहीं बना था। यदि आप कुछ बनाना चाहते हैं तो इसमें समय लगता है।”

–आईएएनएस