विश्व कप : भारत ने पिछली बार के चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को दी 36 रनों से मात


(PC : Twitter/@ICC)

शिखर धवन का शानदार शतक

लंदन (ईएमएस)। ओपनर शिखर धवन के शतक के बाद अच्छी गेंदबाजी का मुज़ाहिरा करते हुए भारत ने विश्व कप में लगातार दूसरी बार मजबूत टीम के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन कर ऑस्ट्रेलिया को 36 रन से हरा दिया।

 

भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में 5 विकेट खोकर 352 रन बनाए थे जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 50 ओवर में 316 रन बनाकर आउट हो गई। ऑस्ट्रेलिया ने अंत तक संघर्ष किया किंतु भारत के पहाड़ जैसे स्कोर के समक्ष ऑस्ट्रेलिया का हौसला टूट गया।

ऑस्ट्रेलिया की तरफ से डेविड वॉर्नर ने 84 गेंदों में धीमा खेलते हुए पांच चौकों की सहायता से 56 रन बनाए। उन्हें यूज़वेंद्र चहल ने भुवनेश्वर कुमार के हाथों कैच कराया। वैसे केदार जाधव ने 35 गेंदों में तीन चौके और एक छक्के की सहायता से 36 रन बनाकर तेज खेल रहे एरोन फिंच को रन आउट करके भारत को पहली सफलता जल्द ही दिलवा दी थी। लेकिन उसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने दो तीन बड़ी साझेदारी करके मैच में वापस लौटने की कोशिश की, पर विकेट नियमित अंतराल से गिरते रहे। ऑस्ट्रेलिया के लिए स्टीव स्मिथ ने पांच चौके और एक छक्के की सहायता से 70 गेंदों में 69 रन का योगदान दिया, उन्हें भुवनेश्वर कुमार ने बोल्ड किया। अंत में एलेक्स केरी ने 35 गेंदों में पांच चौके और एक छक्के की सहायता से नाबाद 55 रन बनाकर भारत को थोड़ा चिंता में डाला लेकिन दूसरे छोर से उनके साथ कोई नहीं दे सका। उस्मान ख्वाजा ने 39 गेंदों में चार चौके और एक छक्के की सहायता से 42 रन की पारी खेली। उन्हें गुमराह ने बोल्ड कर दिया।

ऑस्ट्रेलिया के पांच बल्लेबाज दहाई के अंक तक नहीं पहुंच सके। 14 गेंदों में पांच चौके की सहायता से 28 रन बनाकर तेज खेल रहे ग्लेन मैक्सवेल को यूज़वेंद्र चहल ने सब्सीट्यूट के हाथों कैच करा दिया। अंतिम ओवर की अंतिम गेंद पर भुवनेश्वर कुमार ने एडम जंपा को आउट करते हुए ऑस्ट्रेलिया का दसवां विकेट लिया। ऑस्ट्रेलिया के लिए भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह ने तीन-तीन विकेट लिए यूज़वेंद्र चहल को दो विकेट मिले।

इससे पहले ओपनिंग बल्लेबाज शिखर धवन की शतकीय पारी (117) की बदौलत आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के 14वें मुकाबले में भारत ने आस्ट्रेलिया को 353 रनों का लक्ष्य दिया । इस दौरान जहां धवन ने शतक लगाया। वहीं कप्तान विराट कोहली (82) और उप कप्तान रोहित शर्मा (57) अर्धशतक लगाने में कामयाब रहे जबकि हार्दिक पांड्या 2 रनों से अर्धशतक से चूक गए।

 

केनिंग्टन ओवल मैदान में टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने 5 विकेट के नुकसान पर 352 रन बनाए। भारत की शुरुआत शानदार रही और रोहित शर्मा तथा शिखर धवन के रूप में मैदान में उतरी ओपनिंग जोड़ी ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ मजबूत स्कोर खड़ा करने में अहम भुमिका निभाई। रोहित-धवन की जोड़ी 127 रनों पर टूटी जब रोहित कूल्टर-नाइल की 23वें ओवर की तीसरी गेंद पर एलेक्स केरी के हाथों कैच आउट हो गए। उन्होंने 70 गेंदों पर एक छक्के और 3 चौकों की मदद से 57 रनों की पारी खेली।

इसके बाद बल्लेबाजी करने आए टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और उन्होने शिखर के साथ मिल कर सधी हुई पारी खेला और जब वे 40 रन के निजी स्कोर पर थे तब भारत का दूसरा झटका लगा और शिखर धवन मैच के 37वें ओवर की आखिरी गेंद पर पवेलियन लौट गए। धवन 109 गेंदों पर 16 चौकों की मदद से शानदार शतकीय पारी खेलते हुए स्टार्क की गेंद पर ल्योन के हाथों कैच आउट होकर पवेलियन लौटे। धवन के आउट होने के बाद मैदान में हार्दिक पांड्या की एंट्री हुई तो भारत का रन रेट उपर चढ़ने लगा हालांकि वह 2 रन से अर्धशतक से चूक गए और 27 गेंदों पर शानदार 3 छक्कों और 4 चौकों की मदद से 48 रन बनाकर वापस लौटे। वह पैट कमिंस की 46वें ओवर की पांचवी गेंद पर आरोन फिंच के हाथों कैच आउट हुए। इसके बाद महेन्द्र सिंह धोनी मैदान पर आए उन्होंने बड़े शॉट लगाने की कोशिश की और 14 गेंदों में 27 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। उन्होंने 3 चौके और एक छक्का लगाया। इसके बाद पांचवें विकेट के रुप में कप्तान विराट कोहली का विकेट गिरा उन्होंने 77 गेंदों का सामना करते हुए 82 रन बनाए। जिसमें 4 चौके और 2 छक्के शामिल हैं।

आस्ट्रेलिया की ओर से सबसे सफलता गेंदबाज मार्कस स्टोइनिस रहे। उन्होंने 7 ओवरों में 62 रन देकर दो सफलता हासिल की। इसके अलावा नाथन कूल्टर नाइल, पैट कमिंस और मिशेल स्टार्क को 1-1 विकेट मिले। एडम जम्पा और ग्लेन मैक्सवेल को कोई भी सफलता हाथ नहीं लगी।