एशिया कप : पाकिस्तान से भिड़ने से पहले हांगकांग पर बड़ी जीत चाहेगा भारत


एक जहां इंडियन टीम तैयारी में जुटी है, तो अबू धाबी में श्रीलंका और अफघानिस्तान के बीच चल रही मैच का प्रशंसकों लुत्फ उठा रहे है। (फोटो: सुरजीत यादव / आईएएनएस)

दुबई । मौजूदा विजेता भारत एशिया कप के अपने पहले मैच में मंगलवार को हांगकांग के खिलाफ दुबई अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में उतरेगा। यह मैच भारतीय खिलाड़ियों के लिए टूर्नामेंट में अपनी लय हासिल करने के लिए अच्छा मैच साबित होगा क्योंकि उन्हें अगला मैच पाकिस्तान के साथ खेलना है।

हांगकांग की टीम भारत के मुकाबले में कमजोर टीम है और ऐसे में भारतीय खिलाड़ियों की  कोशिश वनडे में अपनी लय हासिल करने की होगी। भारत हालांकि अपने विपक्षी को किसी भी तरह से हल्के में लेने की कोशिश करने से बचना चाहेगा।

हांगकांग का यह दूसरा मैच होगा। अपने पहले मैच में उसे रविवार को पाकिस्तान से आठ विकेट से मात खानी पड़ी थी। हांगकांग की टीम कोशिश में होगी कि वह भारत को अच्छी चुनौती दे पाए।

टूर्नामेंट में भारत की कमान सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के हाथों में है। नियमित कप्तान विराट कोहली को चयनकर्ताओं ने आराम देने का फैसला किया है। ऐसे में रोहित के कंधों पर बल्ले से रन बनाने के अलावा टीम को जीत दिलाने की दोहरी जिम्मेदारी होगी।

कोहली की गैरमौजूदगी में भारत को तीसरे नंबर का विकल्प ढूंढना होगा। भारत के पास तीन सलामी बल्लेबाज मौजूद हैं। रोहित, शिखर धवन और लोकेश राहुल तीनों सलामी बल्लेबाजी करते हैं, लेकिन इन तीनों में से ही किसी एक को तीसरे नंबर की जिम्मेदारी निभानी पड़ सकती है।

धवन का ओपनिंग में आना तय माना जा रहा है। उन्होंने पहले कभी तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी नहीं की है। वहीं रोहित और राहुल इस क्रम पर अपने हाथ आजमा चुके हैं। अब देखना होगा की रोहित खुद तीसरे नंबर पर आते हैं या राहुल को भेजते हैं।

रोहित के लिए चौथे और पांचवें नंबर के लिए खिलाड़ियों का चयन  करना मशक्कत का काम हो सकता है। इन दो जगहों के लिए भारत के पास केदार जाधव, अंबाती रायडू, मनीष पांडे और दिनेश कार्तिक के रूप में अच्छे विकल्प मौजूद हैं। इन चारों में किसे टीम में जगह मिलती है यह देखना होगा। एशिया कप में जाधव और रायडू की टीम में वापसी हुई है। यह दोनों काफी समय से टीम से बाहर थे।

महेंद्र सिंह धोनी का खेलना तय है। वहीं हार्दिक पांड्या भी अपनी जगह पक्की कर चुके हैं। गेंदबाजी में भारत के पास सीमित ओवरों के दो सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार मौजूद हैं। बाएं हाथ के तेज गेंदबाद खलील अहमद को भी टीम में पहली बार चुना गया। कमजोर प्रतिद्वंद्वी सामने होने के कारण रोहित खलील को पदार्पण करने का मौका भी दे सकते हैं, लेकिन इसकी संभावनाएं कम ही लग रही हैं।

स्पिन विभाग में रोहित, युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की जोड़ी पर ही निर्भर रहना चाहेंगे। बीते एक साल में इस जोड़ी ने भारत को कई अहम जीतें दिलाई हैं।

वहीं अगर हांगकांग की बात की जाए तो उसके लिए यह मैच आसान नहीं होने वाला है। हांगकांग ने क्वालीफायर में शानदार प्रदर्शन कर एशिया कप में जगह बनाई थी लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ पहले मैच में वह अपनी लय बरकारर नहीं रख सकी। केडी शाह और एजाज खान ही बल्ले से कुछ संघर्ष कर पाए थे।

कप्तान अंशुमन रथ ने हालांकि निजाकत खान के साथ मिलकर टीम को अच्छी शुरुआत दी थी लेकिन टीम का मध्यक्रम और निचलाक्रम पाकिस्तानी गेंदबाजों के सामने ढह गया था।

टीमें :-

भारत : रोहित शर्मा (कप्तान), शिखर धवन (उपकप्तान), लोकेश राहुल, अंबाती रायडू, मनीष पांडे, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी, दिनेश कार्तिक, हार्दिक पांड्या, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, शार्दूल ठाकुर और खलील अहमद।

हांगकांग : अंशुमन रथ (कप्तान), अफताब हुसैन, एजाज खान, बाबर हयात, क्रिस्टोफर कार्टर, एहसान खान, एहसान नवाज, हारून अरशाद, कैमरून मैक्लशन, स्कॉट मैक्हनेई, नदीम अहमद, निजाकत खान, राग कपूर, किंचित शाह, तनवीर अहमद, तनवीर अफजल, वकास खान।

-आईएएनएस