2019 विश्वकप में 10 टीमें ही खेलेंगी: आईसीसी


दुबई। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने साफ कर दिया है कि २०१९ विश्वकप में १० टीमें ही खेलेंगी। मौजूदा विश्वकप में आयरलैंड, अफगानिस्तान, यूएई और स्काटलैंड एसोसिएट टीमों के तौर पर टूर्नामेंट का हिस्सा बनी थी और उन्होंने अपने बेहतरीन प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया था। आईसीसी ने विश्वकप के ब्रांड एम्बेसेडर सचिन तेंदुलकर सहित दुनिया के कई दिग्गज क्रिकेटरों की अगले विश्वकप के लिए टीमों की संख्या को बढ़ाने की मांग को खारिज करते हुए यह फसला किया है। दिग्गजों का मानना था कि इससे क्रिकेट का विस्तार नहीं हो पाएगा। वहीं आईसीसी का मानना है कि वह अगले विश्वकप में टीमों की संख्या को कम करने के अपने पैâसले पर बना रहेगा। आईसीसी के मुख्य कार्यकारी डेव रिचर्डसन का कहना है कि विश्वकप २०१९ में भले ही टीमों की संख्या को लेकर लिया गया निर्णय तय है पर उसकी फिर से समीक्षा की जा सकती है लेकिन फिलहाल हमारे इस निर्णय में किसी तरह का बदलाव होने की उम्मीद नहीं दिख रही है। उन्होंने कहा कि हमने अपना निर्णय ले लिया है और अगले विश्वकप में हम १० टीमों के साथ उतर सकते हैं। हमने विश्वकप क्वालिफायर के स्तर को भी बढ़ाया है यदि क्वालिफाई करने वाली टीमों की संख्या में कोई परिवर्तन करने का कोई पैâसला किया जाता है तो इसका सीधा असर क्वालिफाइंग टूर्नामेंट पर पड़ेगा। हमें इस मामले में व्यावसायिक नजरिये को भी देखना होगा। हमें एसोसिएट मैचों में उपाqस्थति को भी देखने की जरूरत होगी कि वहां कितने दर्शक आते हैं और इसका क्या असर होता है।