श्रीनाथ ने टीम इंडिया के गेंदबाजों को जमकर सराहा


पर्थ। भारत के पूर्व तेज गेंदबाज जवागल श्रीनाथ ने विश्व कप क्रिकेट के पहले दो मैचों में शानदार प्रदर्शन के लिए गेंदबाजों की सराहना की है। श्रीनाथ ने कहा कि दो शानदार जीत दर्ज करने के बाद टीम इंडिया का गेंदबाजी आक्रमण अब सभी की नजरों में आ गया है। उन्होंने परिपक्वता दिखाने के लिए युवा तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की जमकर तारीफ भी की है। श्रीनाथ ने आईसीसी कालम में लिखा, दो प्रभावी जीत ने महेंद्र िंसह धोनी की टीम के लिए सही दिशा में काम किया है। भारत का गेंदबाजी आक्रमण नि:संदेह टूर्नामेंट में अधिकांश देशों की टीम बैठक में अब से चर्चा का वेंâद्र होगा। उन्होंने कहा, भारतीय गेंदबाजों की प्रतिभा से अधिक रणनीति को अंजाम तक पहुंचाने की प्रक्रिया ने विरोधी टीमों को हैरान कर दिया है। श्रीनाथ ने दोनों मैचों में बल्लेबाजों के अच्छे प्रदर्शन के बाद काम को अंजाम तक पहुंचाने के लिए गेंदबाजों की तारीफ की है।
उन्होंने कहा, इससे कोई फर्वâ नहीं पड़ता कि आपके खिलाफ कौन बल्लेबाजी कर रहा है, आपको अपनी क्षमता पर विश्वास रखना होता है और शमी ने यह काफी अच्छी तरह से किया है। शार्ट गेंद के समझदारी भरे इस्तेमाल ने उसकी वास्तविक परिपक्वता को दिखाया है। वह विकेट हासिल करने की कोशिश कर रहा है और मेरी नजर में यह उत्साहवर्धक संकेत है। श्रीनाथ ने कहा कि यह पूरी गेंदबाजी इकाई का संयुक्त प्रयास है. उन्होंने कहा, उमेश यादव ने अपनी भूमिका बेहतर तरीके से निभाई है जबकि मोहित शर्मा ने अपने साथी गेंदबाजों के अच्छे पहले स्पैल का पूर तरह फायदा उठाया है। मोहित प्रभावी गेंदबाज है और उसने शमी और यादव के बनाये दबाव का अच्छा इस्तेमाल किया है। इस पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा कि इसके साथ ही भारतीय ाqस्पनरों की भूमिका को भी नहीं भूलना चाहिए। रिंवद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन ने बीच के आवरों में भारतीय टीम को वापसी दिलायी।