वेस्टइंडीज का मुकाबला आज इंग्लैंड से


– शाम साढ़े सात बजे से शुरू होगा मैच
मुंबई । विश्वकप टी-२० में आज गु्रप एक में वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के बीच मुकाबला होगा। इसमें इंग्लैंड टीम के जीतने की संभावनाएं अधिक मानी जा रही हैं। बिन अभ्यास के विश्व कप खेलने पहुंची इंडीज टीम में अधिकर नये खिलाड़ी है। वहीं इंग्लैंड टीम बल्लेबाजी और गेंदबाजी में काफी बेहतर है। सुपर १० के ग्रुप एक के मुकाबले के काफी रोमांचक होने की उम्मीद है। इस मैच के साथ इंग्लैंड की टीम विश्व टी२० खिताब के अभियान की सकारात्मक शुरूआत करना चाहेगी। इससे पहले अभ्यास मैचों में वेस्टइंडीज ने भारत के खिलाफ शिकस्त के बाद आस्ट्रेलिया को हराकर उलटपेâर किया जबकि इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड और मुंबई दोनों के खिलाफ अपने अभ्यास मैच जीते हैं। डेरेन सैमी की अगुआई वाली वेस्टइंडीज की टीम के पास कप्तान के अलावा ड्वेन ब्रावो और आंद्रे रसेल के रूप में काफी प्रभावी आलराउंडर हैं। दोनों टीमों के बीच अब तक हुए नौ मुकाबलों में वेस्टइंडीज ने पांच जबकि इंग्लैंड ने चार जीते हैं हालांकि वानखेड़े स्टेडियम में ाqस्पनरों की भूमिका अहम रहेगी। इंग्लैंड के पास लेग ाqस्पनर आदिल राशिद, आफ ाqस्पनर मोईन अली और युवा आलराउंडर लियाम डासन हैं जो बायें हाथ की ाqस्पन करते हैं। वहीं रहस्यमयी ाqस्पनर सुनील नारायण के नहीं खेलने से वेस्टइंडीज को झटका लगा है। उसके पास सैमुअल बद्री, बायें हाथ के ाqस्पनर सुलेमान बेन के अलावा मार्लन सैमुअल्स और क्रिस गेल हैं पर इंग्लैंड की ाqस्पन गेंदबाजी उसके मुकाबले बेहतर है।
वेस्टइंडीज की बल्लेबाजी की अगुआई आक्रामक बल्लेबाज गेल करेंगे जबकि उसे आलरांडर कीरोन पोलार्ड, सलामी बल्लेबाज लेंडल सिमंस और डेरेन ब्रावो की कमी खलेगी। दूसरी ओर इंग्लैंड के पास कप्तान इयोन मोर्गन, जो रूट, बेन स्टोक्स और जोस बटलर जैसे प्रभावी बल्लेबाज हैं जबकि पारी की शुरूआज जेसन राय और एलेक्स हेल्स की तूफानी जोड़ी कर सकती है। वेस्टइंडीज ने टेस्ट और वनडे में पिछले कुछ समय में प्रभावी प्रदर्शन नहीं किया लेकिन टी२० में वह शीर्ष टीम रहा है और दो साल पहले बांग्लादेश में विश्व टी२० के दौरान सेमीफाइनल में पहुंचा था।
दोनो टीमें इस प्रकार हैं:
वेस्टइंडीज: डेरेन सैमी (कप्तान), सैमुअल बद्री, सुलेमान बेन, कालरेस ब्रेथवेट, ड्वेन ब्रावो, जानसन चाल्र्स, आंद्रे फ्लेचर, क्रिस गेल, जेसन होल्डर, एविन लुईस, एश्ले नर्स, दिनेश रामदीन, आंद्रे रसेल, मार्लन सैमुअल्स और जिरोम टेलर।
इंग्लैंड: इयोन मोर्गन (कप्तान), जेसन राय, जेम्स विन्स, एलेक्स हेल्स, जो रूट, मोईन अली, जोस बटलर, बेन स्टोक्स, सैम बििंलग्स, क्रिस वोक्स, डेविड विली, लियाम प्लंकेट, रीसी टोप्ले, क्रिस जोर्डन, आदिल राशिद और लियाम डासन।