विश्व कप में विशेषज्ञ कमेंटेटर होंगे सचिन और सौरव 


मुंबई। विश्व कप में इस बार सचिन तेंडुलकर और सौरव गांगुली की सबसे सफल सलामी जोड़ी एक बार फिर से वापसी कर सकती है लेकिन इस बार उनके हाथ में बल्ले नहीं, बल्कि  माइक्रोफोन होंगे। यह दिग्गज जोड़ी विश्व कप के पहले और उसके दौरान टीवी स्टूडियो में विशेषज्ञ टिप्पणी दे सकती है हालांकि तेंडुलकर के ज्यादातर प्रशंसकों का मानना है कि उनको मीडिया संबंधी गतिविधियों में भाग नहीं लेना चाहिए, लेकिन विश्व कप उनको इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का हिस्सा बनने का शानदार मौका प्रदान कर रहा है। गांगुली २००९ से कमेंटेटर का काम कर रहे हैं और वे एक टीवी चैनल पर भी अपनी टिप्पणियों के लिए जाने जाते हैं। सचिन और गांगुली को एकदिवसीय क्रिकेट की महान सलामी जोड़ी के तौर पर याद किया जाता है। दोनों ने १९९८ में कोलंबो में िंसगर कप में श्रीलंका के खिलाफ २५२ रन की रिकॉर्ड साझेदारी की थी। १९९२ से २००७ के बीच दोनों ने १७६ पारियों में ४७.५५ की औसत से ८२२७ रन जोड़े थे। इसमें २६ शतकीय और २९ अर्धशतकीय साझेदारियां हैं।