विश्वकप 2015- कई बने रिकार्ड


० मैन आफ द मैच धवन (१३७) की धमाकेदार पारी
० द.अप्रâीका को विश्वकप में पहली बार मात
मेलबोर्न। मेलबोर्न क्रिकेट मैदान पर टीम इंडिया ने विश्वकप में वर्ष १९९२ के बाद सबसे बड़ी जीत हासिल की। इतिहास रचते हुए टीम इंडिया ने द.अप्रâीका के खिलाफ सबसे बड़ी जीत के साथ कई रिकार्ड कायब किये। मैन ऑफ द मैच रहे शिखर धवन ने अकेले दम पर १४६ गेंदों में १६ चौके और दो छक्कों की मदद से १३७ रनों की रोमांचक पारी खेली। भारत की ओर से शानदार बल्लेबाजी करते हुए सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने ऐतिहासिक सेंचुरी लगाई। भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए ५० ओवर में ३०७ रन का बड़ा स्कोर बनाया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अप्रâीकी टीम ४०.२ ओवरों में १७७ रनों पर सिमट गई। टीम इंडिया ने द.अप्रâीका के खिलाफ १३० रनों से विश्वकप में पहली बड़ी जीत दर्ज करने में कामयाबी हासिल की।
धवन ने अपने ५० रन केवल ७० गेंदों में बनाए। उनके और रोहित के बीच हुई गलतफहमी कारण रोहित रन आउट हुए लेकिन इसके बाद धवन ने साउथ अप्रâीका की गेंदबाजी का बुरा हाल किया। ५४ के निजी स्कोर पर हाशिम अमला ने धवन का एक कठिन वैâच छोड़ दिया था। शिखर वल्र्ड कप में साउथ अप्रâीका के खिलाफ सेन्चुरी लगाने वाले दूसरे भारतीय हैं। उनसे पहले सचिन ने २०११ में १११ रन की पारी खेली थी। एक रोचक तथ्य यह भी है कि शिखर धवन ने जिस वनडे में सेंचुरी लगाई उस मैच को भारत ने जीता है।
० अिंजक्य रहाणे का १३१.६६ स्ट्राइक रेट
अिंजक्य रहाणे ने दक्षिण अप्रâीका के खिलाफ ७९ रनों की पारी खेली। चौथे नंबर पर द.अप्रâीका के खिलाफ ये उनका सबसे बेहतरीन स्कोर है। विश्वकप में चौथे नंबर पर आने वाले खिलाड़ी की ओर से द.अप्रâीका के खिलाफ ये छट्ठा अर्धशतक है।

० शिखर की भारत को रिकार्ड बुक
– विश्वकप में द.अप्रâीका के खिलाफ किसी भी भारतीय बल्लेबाज का यह सबसे बड़ा स्कोर है।
– शिखर धवन मेलबर्न क्रिकेट मैदान पर शतक बनाने वाले तीसरे भारतीय
– धवन से पहले सौरव गांगुली और रोहित शर्मा कर चुके है यह कारनामा
– शिखर इससे पहले उनका बेस्ट वनडे स्कोर ११९ रन था जो उन्होंने २०१३ में वेस्टइंडीज के खिलाफ बनाए थे
– शिखर ने २००३ विश्वकप में न्यूजीलैंड के स्टीफन फ्लेिंमग के नाबाद १३४ रनों के रिकॉर्ड को तोड़ा
– भारत से शिखर ने द.अप्रâीका के खिलाफ वनडे क्रिकेट की ९वीं सबसे बड़ी पारी खेली
– शिखर ने भारतीय क्रिकेटरों द्वारा खेली गई तीसरी सबसे बड़ी पारी है.
– वनडे में ऐसे तीन ही मौके आए, जब भारत ने द.अप्रâीका के खिलाफ दो शतकों की साझेदारी की
– ओपनर का शतक, ऑस्ट्रेलिया में खेले वनडे में भारत के सिर्पâ पांच ओपनर ही शतक जड़ा