विश्वकप में दो नये रिकार्ड बना सकते हैं अफरीदी


मेलबोर्न। पाकिस्तानी टीम के ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी इस बार विश्व कप क्रिकेट में दो नये रिकार्ड बनाना चाहेंगे। क्रिकेट को अलविदा कहने से पहले अफरीदी अपना पहला और देश को दूसरा विश्व कप दिलाकर अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से विदा लेना चाहेंगे। शाहिद अफरीदी के नाम विश्व क्रिकेट में कई रिकॉर्ड है। इन रिकॉड्र्स में दो रिकॉर्ड ऐसे भी हैं जो वह इस विश्वकप में तोड़ सकते हैं।
अफरीदी ने विश्व क्रिकेट में ३९१ वनडे मैच खेले हैं जिसमें उन्होनें २३ के औसत से ७९४८ रन बनाए हैं। इस टूर्नामेंट में ग्रुप स्तर पर हर टीम को ६ मुकाबले खेलने हैं और अगर अफरीदी इस टूर्नामेंट में ५२ रन और बना लेते हैं तो वो ८००० रन बनाने वाले खिलाड़ियों में शामिल हो जाएंग। इसके साथ ही वो इं़जमाम उल हक, मौहम्मद यूसुफ और सईद अनवर के बाद ८००० रन बनाने वाले पाकिस्तान के चौथे बल्लेबा़ज भी बन जाएंगे। वहीं इसके साथ ही अफरीदी गेंदबा़जी में भी एक उपलब्धि हासिल कर सतके हैं। अफरीदी ने ३९१ वनडे मैचों में ३९३ विकेट लिऐ हैं। उन्हें एकदिवसीय क्रिकेट में ४०० विकेट पूरे करने के लिए केवल ७ विकेटों की जरूरत है। अगर अफरीदी एकदिवसीय क्रिकेट से संन्यास से पहले ये ७ विकेट हासिल कर लेते हैं तो वो विश्व क्रिकेट में ४०० विकेट लेने वाले दुनिया के पांचवे और पाकिस्तान के दूसरे सबसे सफल गेंदबा़ज बन जाएंगे।