विश्वकप : महज 5 रन से जीता आयरलैंड


– आयरलैंड ने जिम्बाब्वे को हराया
होबार्ट । विश्वकप क्रिकेट के पूल बी में आयरलैंड ने एक बेहद करीबी रोमांचक मुकाबले में जिम्बाब्वे को पांच रनों से हरा दिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए आयरलैंड की टीम ने ३३१ रनों का पहाड़ जैसा स्कोर बनाया। इस प्रकार जिम्बाब्वे को जीत के लिए ३३२ रनों का बेहद मुश्किल लक्ष्य मिला। इस लक्ष्य का पीछा करते हुए जिम्बाब्वे टीम जीत के काफी करीब पहुंच गई थी पर आखिर ओवर में जिम्बाब्वे का ९वां विकेट गिरते ही मैच उसके हाथ से फिसल गया। विशाल चुनौती का पीछा कर रही ़िजम्बॉब्वे की टीम ने अपने खेल से क्रिकेट प्रेमियों का दिल जरूर जीत लिया। अंतिम ओवर में उसके दो आखिरी विकेट गिर गए और तीन गेंदें शेष रहते ही ़िजम्बॉब्वे की पूरी टीम ३२६ रनों के स्कोर पर आउट हो गई।
जिम्बाब्वे के कप्तान ब्रैंडन टेलर ने ९१ गेंदों पर १२१ रनों की आतिशी पारी खेली उनके अलावा सीन विलियम्स ने शानदार ९६ रन बनाये और अपनी टीम को जीत की दहलीज तक ले गये पर। आ़िखरी ओवर में ़िजम्बॉब्वे को जीत के लिए सात रनों की दरकार थी, पर कुसाक ने तीन गेंदों पर आखिरी दो विकेट लेकर आयरलैंड को जीत दिला दी।
इससे पहले आयरलैंड ने एड जॉयस के ११२ (१०३ गेंद, ९ चौके, ३ छक्के) और एंडी बलबिर्नी के शानदार ९७ रनों की बदौलत ५० ओवरों में ८ विकेट पर ३३१ रन बनाए।
जिम्बाब्वे के कप्तान ब्रैंडन टेलर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का पैâसला किया। आयरलैंड की टीम की शुरुआत खराब रही थी। १६ रन के स्कोर पर टीम को पहला झटका लगा, जब स्टा\लग सिर्पâ १० रन बनाकर आउट हुए। २९ रन बनाने वाले पोर्टरफील्ड का विकेट ७९ के स्कोर पर गिरा। इसके बाद जॉयस और बलबिर्नी ने तीसरे विकेट के लिए १३८ रनों की साझेदारी करके अपनी टीम को संभाला।
बलबिर्नी तीन रनोें से अपना शतक पूरा नहीं कर पाए और ९७ पर रन आउट हो गए। उन्होंने सिर्पâ ७९ गेंदों पर ७ चौके और ४ छक्के लगाकर यह रन बनाये। वहीं जिम्बाब्वे के लिए टी चतारा और सीन विलियम्स ने तीन-तीन विकेट लिए।