फाइनल में जगह बनाने उतरेंगे पाकिस्तान-बांग्लादेश


मीरपुर। एशियाकप टी-२० क्रिकेट के अंतिम राउंड रोबिन मुकाबले में आज पाकिस्तान और मेजबान बांग्लादेश के बीच फाइनल में जगह बनाने घमासान होगा। बांग्लादेश के मशरपेâ मुर्तजा और उनकी टीम इस मैच को जीतकर विश्व टी२० से पहले मनोबल बढ़ाने का प्रयास करेगी। उसे घरेलू मैदान का भी लाभ मिलेगा। मेजबाज बांग्लादेश की टीम इस मैच में अपने मुख्य तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान के बिना ही उतरेगी पर इसके बावजूद उसे कमजोर नहीं माना जा सकता। वहीं पाक टीम किसी प्रकार के भ्ीा उलटपेâर करने में सक्ष्म है। उसके पास काफी अच्छे गेंदबाज हैं हालांकि बल्लेबाजी में वह मुश्किलों के दौर से गुजर रही है।
मुस्तफिजुर की चोट घरेलू टीम के लिए िंचता का कारण है। इस तेज गेंदबाज की विविधता निाqश्चत तौर पर पाकिस्तानी बल्लेबाजों को परेशान करती रही है जिसे कल यूएई के खिलाफ सात विकेट की जीत के दौरान भी मुाqश्कलों का सामना करना पड़ा था।
बायें हाथ के इस तेज गेंदबाज की मौजूदगी डेथ ओवरों में पाक बल्लेबाजों पर दबाव डालती जो अब तक दो मैचों में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। बांग्लादेश के लिए राहत की बात यह है कि सलामी बल्लेबाज तमीम इकबाल की टीम में वापसी हुई है।
बांग्लादेश को उम्मीद होगी कि तमीम उसे तेज शुरूआत दिलाएंगे जो टीम अब तक तीन मैचों में हासिल नहीं कर पाई है। दूसरी तरफ पाकिस्तान की बल्लेबाजी भारत के खिलाफ पहले मैच में बेहद खराब रही और टीम सिर्पâ ८३ रन पर सिमट गई जबकि यूएई के खिलाफ भी उसने तीन विकेट सिर्पâ १७ रन जोड़कर गंवा दिए थे। कप्तान शाहिद अफरीदी भी फार्म में नहीं हैं।
पाक कोच वकार यूनिस ने स्वीकार किया कि उन्हें नहीं पता कि आखिर क्या कारण है कि सलामी बल्लेबाज शारजील खान और मोहम्मद हफीज खुलकर नहीं खेल पा रहे हैं। कोच ने हालांकि अनुभवी क्रिकेटर शोएब मलिक की तारीफ की जिन्होंने यूएई के खिलाफ नाबाद ६३ रन की पारी खेलकर टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई।
पाक का मजबूत पक्ष हालांकि उसकी गेंदबाजी हैं जिसकी अगुआई तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर कर रहे हैं जिन्होेंने अब तक दोनों मैचों में शानदार प्रदर्शन किया है। आमिर ने भारतीय बल्लेबाजों को अपनी तेजी और िंस्वग से काफी परेशान किया था जबकि यूएई के खिलाफ उन्होंने चार ओवर में सिर्पâ छह रन देकर दो विकेट हासिल किए।