टी-20 श्रृंखला जीतने के इरादे से उतरेंगे भारत और जिम्बाब्वे


– शाम साढ़े चार बजे शुरू होगा मैच
हरारे। टीम इंडिया आज यहां जिम्बाब्वे के खिलाफ तीसरे और अंतिम टी-२० क्रिकेट मैच में जीत के साथ ही श्रृंखला पर कब्जा करना चाहेगी। दूसरे टी२० में जिम्बाब्वे के खिलाफ मिली शानदार जीत से टीम का मनोबल बढ़ा हुआ है। टीम ने बल्लेबाजी के साथ ही गेंदबाजी में भी शानदार प्रदर्शन किया है। वहीं मेजबान टीम जिम्बाब्वे भी जीत के लिए पूरी ताकत लगा देगी पहले टी-२० में जीत के बाद टीम दूसरे में असफल रही। इस प्रकार श्रृंखला अब १-१ से बराबरी पर है। ऐसे में मेजबान टीम भी अपनी ओर से कोई कसर नहीं छोड़ना चाहेगी। भारत ने एकदिवसीय श्रृंखला में जिम्बाब्वे को ३-० से हराया था पर शनिवार को पहले टी२० में महेंद्र िंसह धोनी की टीम को दो रन से हार का सामना करना पड़ा। धोनी की युवा टीम ने हालांकि दूसरे मैच में दस विकेट से जीत कर अपनी संभावनाएं करकरार रखी हैं। भारतीय टीम अब एक और आसान जीत के साथ श्रृंखला अपने नाम करना चाहेगी।
धोनी की अगुआई वाली टीम के लिए बिंरदर सरन, मनदीप िंसह, लोकेश राहुल और जसप्रीत बुमराह ने प्रभावी प्रदर्शन किया है। युवा तेज गेंदबाज सरन ने पदार्पण करते हुए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। मनदीप ने अर्धशतक जड़ा जबकि राहुल ने भी प्रभावी पारी खेली जिससे टीम ने बेहद आसान जीत दर्ज की। सरन ने १० रन देकर चार विकेट लिए जबकि बुमराह ने उनका अच्छा साथ निभाते हुए तीन विकेट हासिल किए। मनदीप ने इस प्रारूप में अपना पहला अर्धशतक लगाया जिसके बाद अब इन युवा खिलाड़ियों की नजरें एक बार फिर अच्छे प्रदर्शन पर टिकी होंगी। भारत की टी२० अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में १० विकेट से यह पहली जीत है जिससे भी टीम का मनोबल बढ़ा है।
धोनी हालांकि पिछले मैच में बड़ी जीत के बावजूद मेजबानों को हल्के में नहीं लेंगे और टीम के अपने युवा साथियों को गंभीरता से खेलने की सलाह देंगे। धोनी ने कल की जीत के बाद कहा, “मैं जोर देकर कहना चाहूंगा कि हमें तेजी से रन दौड़ने की जरूरत है जिससे कि क्षेत्ररक्षकों पर दबाव बने और छोटे प्रारूप में यह तेज रन हमेशा महत्वपूर्ण होता है।”
दूसरी ओर जिम्बाब्वे श्रृंखला का सकारात्मक अंत करना चाहेगी। कप्तान क्रीमर ने कहा कि उनकी टीम को अब तक नियमित अंतराल पर विकेट गंवाने से नुकसान हुआ है। जिम्बाब्वे को गेंदबाजों के साथ ही बल्लेबाजी में चामू चिभाभा, हैमिल्टन मसाकाद्जा, सिवंâदर रजा, एल्टन चिगुंबुरा और मैलकम वालेर जैसे खिलाड़ियों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है।
दोनो टीमें इस प्रकार हैं।
भारत: महेंद्र िंसह धोनी (कप्तान), लोकेश राहुल, पैâज फजल, मनीष पांडे, करूण नायर, अंबाती रायुडू, रिषी धवन, अक्षर पटेल, जयंत यादव, धवल कुलकर्णी, जसप्रीत बुमराह, बिंरदर सरन, मनदीप िंसह, केदार जाधव, जयदेव उनादकट और युजवेंद्र चहल।
िंजबाब्वे : ग्रीम व्रेâमर (कप्तान), वुसीमुजी सिबांडा, सिवंâदर रजा, एल्टन चिगुम्बुरा, हैमिल्टन मसाकाद्जा, वेिंलगटन मसाकाद्जा, तेंडाई चतारा, चामू चिभाभा, डोनाल्ड तिरिपानो, मैल्कम वालेर, पीटर मूर, तापिवा मुपुâद्जा, टिनोटेंडा मुतोम्बोद्जी, रिचमंड मुतुम्बामी (विकेटकीपर), तौराई मुजारबानी, ब्रायन चारी, नेविल मादजिवा, तिमीसेन मारूमा।