चंदीला पर आजीवन प्रतिबंध, हिकेन पर पांच साल की पाबंदी


– रउफ पर पैâसला १२ फरवरी तक टला
मुंबई। आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में हरियाणा के ऑफ ाqस्पनर अजित चंदीला पर आजीवन प्रतिबंध लगाया गया है। वहीं मुंबई के बल्लेबाज हिकेन शाह पर पांच साल का प्रतिबंध लगाया गया है।
बीसीसीआई की अनुशासन समिति ने आज हुई बैठक के बाद यह प्रतिबंध लगाया है। बीसीसीआई अध्यक्ष शशांक मनोहर की अध्यक्षता वाली समिति के सदस्यों में ज्योतिरादित्य िंसधिया और निरंजन शाह शामिल हैं। समिति ने एक अन्य आरोपी पाकिस्तानी अंपायर असद रउफ पर पैâसला १२ फरवरी तक टाल दिया है। उन्हें जवाब देने के लिये नौ फरवरी तक का समय दिया गया है।
चंदीला राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलने के दौरान स्पॉट फििंक्सग के दोषी पाए गए। उन पर रिश्वत लेने, फििंक्सग, जान बूझकर खराब खेलने और साथी खिलाड़ी से सट्टेबाजी के लिए संपर्वâ का आरोप है। बीसीसीआई सचिव अनुराग ठाकुर ने कहा ,“बीसीसीआई का लक्ष्य क्रिकेट को पाक साफ रखना और किसी तरह के भ्रष्टाचार का कठोरता से सामना करना है।”
ठाकुर ने कहा ,“ उसे बीसीसीआई की भ्रष्टाचार निरोधक आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी पाया गया।” उन्होंने कहा कि अब चंदीला बोर्ड या इसकी सदस्य ईकाइयों द्वारा आयोजित किसी तरह की क्रिकेट गतिविधि में आजीवन हिस्सा नहीं ले सवेंâगे।
वहीं दूसरी ओर बल्लेबाज शाह पर घरेलू र्सिकट पर मुंबई के एक साथी खिलाड़ी को भ्रष्टाचार की पेशकश का आरोप है।
ठाकुर ने कहा ,“शाह को भी बीसीसीआई की भ्रष्टाचार निरोधक आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। वह पांच साल तक क्रिकेट के किसी भी प्रारूप या बोर्ड की गतिविधि में हिस्सा नहीं ले सवेंâगे।”
रउफ मामले पर सुनवाई भी होनी थी पर वह उपाqस्थत नहीं थे। उन्होंने जवाब में कहा कि इस मामले में निष्पक्ष जांच नहीं की गई और दूसरे जांच अधिकारी को नियुक्त करके जांच की जानी चाहिये पर अनुशासन समिति ने उनका यह अनुरोध खारिज कर दिया।