क्लार्क को शामिल किये जाने पर द्रविड़ हैरान


नयी दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड ने कहा कि फिट न होने के बावजूद कप्तान माइकल क्लार्वâ को आगामी विश्व कप के लिये टीम में शामिल किये जाने पर उन्हें हैरानी हुई है। द्रविड़ ने कहा कि यह ऑस्ट्रेलियाई तरीका नहीं है। क्लार्वâ हैमिंस्ट्रग की चोट से परेशान हैं और उन्होंने भारत के खिलाफ दिसंबर में एडिलेड में पहला टेस्ट मैच खेलने के बाद से कोई मैच नहीं खेला है। उन्हें अपनी फिटनेस २१ फरवरी तक साबित करनी है जबकि उन्हें इस दौरान एक मैच बांग्लादेश से भी खेलना है।
द्रविड ने कहा, मुझे उम्मीद है कि यह भावनात्मक पैâसला नहीं होगा। आप यही कह सकते हो कि उन्हें यह पैâसला लेना पडा। यह पैâसला लेने का ऑस्ट्रेलियाई तरीका नहीं है। हमने देखा कि ऑस्ट्रेलियाई चयनकर्ताओं ने विशेषकर माइकल क्लार्वâ के मामले में कुछ बहुत भावनात्मक पैâसले लिये हैं।
द्रविड ने कहा कि क्लार्वâ की अनुपाqस्थति में भी टीम कमजोर नहीं है और स्टीवन ाqस्मथ उनकी जगह भर सकता है।
पूर्व भारतीय बल्लेबाज ने कहा कि क्लार्वâ ने उनके लिये बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन उनकी अनुपाqस्थति में ाqस्मथ को रखने से टीम कमजोर नहीं दिखती है। असल में कुछ लोग यह सकते हैं कि इससे टीम अधिक बेहतर लगती है क्योंकि ाqस्मथ के आने से बल्लेबाज और गेंदबाजी के अलावा क्षेत्ररक्षण विभाग भी मजबूत हो गया है।