एशिया कप में भारत-पाकिस्तान मुकाबला कल


– शाम सात बजे से शुरू होगा मैच
मीरपुर। एशिया कप टी-२० क्रिकेट में शनिवार को भारत और पाकिस्तान की टीमों के बीच अहम मुकाबला खेला जाएगा। खेल प्रशंसक इस रोमांचक मुकाबले का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। एशिया कप के पहले ही मैच में मेजबान बांग्लादेश पर शानदार जीत से उत्साहित टीम इंडिया अब इस मैच को भी जीतकर अपना विजय अभियान बरकरार रखना चाहेगी। आंकड़ों पर नजर डालें तो टीम इंडिया का पलड़ा इस बार भी भारी है। अभी दोनों टीमों की भिड़ंत राउंड रोबिन लीग मुकाबले में होगी। इसमें दोनो ही देशों के प्रशंसक बड़ी तादाद में मौजूद होंगे ऐसे में दोनो टीमों पर दबाव भी काफी अधिक रहेगा।
दोनो ही टीमों ने हाल के दिनों में काफी क्रिकेट खेला है, इसलिए दोनो ही अच्छी तैयारी से यहां पहुंंची है। भारतीय टीम ने हाल ही में आस्टेलिया और श्रीलंका को हराया है इसलिए उसका उत्साह बढ़ा हुआ है।
भारत ने विश्व टी२० की अच्छी तैयारी करते हुए इस साल सात में से छह मैच जीते हैं। दूसरी तरफ पाकिस्तान के खिलाड़ी पाक सुपर लीग में हिस्सा लेने के बाद यहां आए हैं। आंकड़ों पर नजर डालें तो भारत को वैश्विक टूर्नामेंटों में कभी पाकिस्तान के खिलाफ हार का सामना नहीं करना पड़ा पर महाद्वीपीय टूर्नामेंटों में ऐसा नहीं है। शाहिद अफरीदी की टीम को कहीं से भी कम नहीं आंका जा सकता। पाक टीम के कोच वकार यूनुस का कहना है कि इस बार उनकी टीम टीम भारत को हराकर उलटपेâर करेगी।
दोनों टीमों के बीच पिछला मुकाबला एक साल और ११ दिन पहले एडिलेड में ५० ओवर के विश्व कप के दौरान खेला गया था जिसमें भारत ने ७६ रन से जीत दर्ज की थी।
भारतीय कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी की अगुआई में भारतीय टीम लय में आ रही है और सभी विभागों में खिलाड़ी एकजुट होकर प्रदर्शन कर रहे हैं। टीम इंडिया हर विभाग में मजबूत नजर आती है लेकिन पाकिस्तान टीम कभी भी उलटपेâर की क्षमता रखती हैं।
टीम इंडिया के लिए एकमात्र िंचता कप्तान धोनी की पीठ की फिटनेस को लेकर है। धोनी दर्द के बावजूद बांग्लादेश के खिलाफ ४५ रन की जीत के दौरान खेले थे। अगर धोनी नहीं खेलने का पैâसला करते हैं तो र्पािथव पटेल उनकी जगह उतरेंगे। विराट कोहली के बाद सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा पर बड़ा दारोमदार रहेगा। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के प्रदर्शन में निरंतरता की कमी है लेकिन लय में आने पर वह किसी भी गेंदबाजी आक्रमण को ध्वस्त कर सकते हैं।
वहीं पाकिस्तान के लिए पारी की शुरूआत मोहम्मद हफीज और शारजील खान कर सकते हैं। शारजील ने पीएसएल में अपनी प्रेंâचाइजी के लिए २९९ रन बनाए थे हालांकि शारजील और हफीज के बीच धवन और रोहित जैसा तालमेल नहीं दिखता। पाकिस्तान के खिलाफ कोहली ने भी शानदार प्रदर्शन किया है और कुछ बड़ी पारियां खेली हैं।
भारतीय कप्तान धोनी किसी तरह अपने पाकिस्तानी समकक्ष अफरीदी की तुलना में अधिक भरोसेमंद हैं। मध्य क्रम में युवराज िंसह और सुरेश रैना पाकिस्तान के शोएब मलिक और खुर्रम मंजूर से बड़े मैच विजेता हैं। युवराज को हालांकि बड़ी पारी की दरकार है जो उनका आत्मविश्वास बढ़ाए। ाqस्पन विभाग में लेग ाqस्पनर यासिर शाह की गैरमौजूदगी पाकिस्तान की टीम के लिए बड़ी समस्या होगी। अफरीदी अपनी तेज लेग ाqस्पन के लिए जाने जाते हैं लेकिन अतीत में भारतीय बल्लेबाजों ने बिना किसी परेशानी के उनका अच्छी तरह से सामना किया है।
दूसरी तरफ पाकिस्तान के बल्लेबाजों को भारतीय आफ ाqस्पनर रविचंद्रन अश्विन के खिलाफ परेशानी का सामना करना पड़ा है। रिंवद्र जडेजा अपनी सटीक गेंदबाजी के लिए मशहूर हैं और यह भारतीय जोड़ी अफरीदी और लेग ाqस्पनर मोहम्मद नवाज की पाकिस्तान की ाqस्पन जोड़ी से बेहतर होगी। पाकिस्तान सिर्पâ तेज गेंदबाजी विभाग में भारत को टक्कर देता नजर आता है। आमिर और वहाब रियाज के मुकाबले भारतीय तेज गेंदबाज आशीष नेहरा अनुभव और तेजी में कहीं आगे हैं।
ये सभी गेंद को िंस्वग करा सकते हैं। वहाब और आमिर के पास हालांकि ३७ साल के नेहरा की तुलना में अधिक गति है। मोहम्मद समी ने पाकिस्तान टीम में वापसी की है इससे उसका गेंदबाजी आक्रमण मजबूत हुआ है। इसके अलावा पाकिस्तान के पास अनवर अली जबकि भारत के पास जसप्रीत बुमराह हैं। कुल मिलाकर कल होने वाले मुकाबले में भारत प्रबल दावेदार नजर आता है।
दोनो टीमें इस प्रकार हैं:
भारत- महेंद्र िंसह धोनी (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली, सुरेश रैना, युवराज िंसह, र्हािदक पांडया, रिंवद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, आशीष नेहरा, जसप्रीत बुमराह, अिंजक्य रहाणे, र्पािथव पटेल, भुवनेश्वर कुमार और हरभजन िंसह।
पाकिस्तान: शाहिद अफरीदी (कप्तान), मोहम्मद हफीज, शारजील खान, उमर अकमल, शोएब मलिक, खुर्रम मंजूर, मोहम्मद नवाज, सरफराज अहमद, मोहम्मद आमिर, मोहम्मद हरफान, मोहम्मद समी, वहाब रियाज, अनार अली, इाqफ्तखार अहमद और इमाद वसीम।