एशियाई चैम्पियन गणपतराव अंदालकर का निधन


Image : marathi.latestly.com

नई दिल्ली। एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले पूर्व पहलवान गणपतराव अंदालकर का निधन हो गया। अंदालकर 83 साल के थे। उनका निधन 16 सितम्बर को हुआ था। अखिल भारतीय खेल परिषद (एआईसीएस) ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी।

इंडोनेशिया में 1962 में हुए एशियाई खेलों में अंदालकर ने कुश्ती की ग्रीको-रोमन और फ्री स्टाइल के 97-प्लस किलो भारवर्ग में क्रमश: स्वर्ण तथा रजत पदक हासिल किए थे।

अंदालकर को फ्रीस्टाइल में 97-प्लस हैवीवैट स्पर्धा के फाइनल में पाकिस्तान के मुहम्मद सईद से हार मिली और इस कारण इस स्पर्धा में उन्हें रजत पदक हासिल हुआ।

इन्हीं एशियाई खेलों में ग्रीको-रोमन की 97-प्लस हैवीवैट स्पर्धा में अंदालकर ने पाकिस्तानी पहलवान सईद से फ्रीस्टाइल में मिली हार का बदला लेते हुए स्वर्ण पदक हासिल किया।

इसके अलावा, उन्होंने 1964 टोक्यो ओलम्पिक खेलों में भारत की कुश्ती टीम का नेतृत्व किया था। इसी साल उन्हें अर्जुन पुरस्कार से भी नवाजा गया।

कुश्ती में अपना करियर बनाने के लिए महाराष्ट्र के सांगली गांव से कोल्हापुर आए अंदालकर को 1960 में हिंद केसरी खिताब से नवाजा गया था।

एआईसीएस के अध्यक्ष प्रोफेसर विजय कुमार मल्होत्रा ने अंदालकर के निधन पर शोक जताते हुए उनके परिजनों के प्रति अपनी सांत्वना प्रकट की।

मल्होत्रा ने कहा, भगवान अंदालकर की आत्मा को शांति दे और उनके परिवार तथा दोस्तों को इस दुख को सहने की हिम्मत प्रदान करे।

-आईएएनएस