योगी आदित्यनाथ की रैली से क्यों उठकर जाने लगे लोग


(Photo caption : ANI)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और भाजपा के स्टार प्रचारक रविवार को तेलंगाना में पार्टी उम्मीदवारों के प्रचार के लिए पहुंचे। योगी आदित्यनाथ ने कामरेड्डी जिले के येला रेड्डी इलाके में आयोजित एक कार्यक्रम में अपने भाषण की शुरुआत की। कुछ समय में लोग उठकर जाने लगे। आयोजक इस तरह लोगों को अचानक जाता देख तनाव में आ गए। रैली छोड़ने वाले लोगों का कारण यह था कि वे योगी आदित्यनाथ की हिंदी भाषा को नहीं समझ सकते थे। योगी आदित्यनाथ की रैली में भाषण का तेलुगु में अनुवाद कर सकने वाला दुभाषिया नहीं मिला और इसलिए योगी आदित्यनाथ हिंदी में भाषण देने लगे और लोग उठकर चलने लगे।

जहीराबाद में आयोजित इस रैली के लिए, भाजपा कार्यकर्ताओं ने भीड़ तो एकत्र कर ली थी, लेकिन उनमें से ज्यादातर ऐसे लोग थे जो हिंदी नहीं समझ सकते थे। लोगों ने कहा कि सीएम ने जो कहा वह समझ में नहीं आया।

अन्य लोगों के साथ रैली छोड़ने वाली एक महिला ने कहा कि हम समझ नहीं पा रहे थे कि वे क्या कह रहे थे। बीजेपी को इस रैली के लिए एक दुभाषिया रखना चाहिए था जो तेलुगु बोल सके। सूत्रों के अनुसार, तेलंगाना क्षेत्र के अध्यक्ष के. लक्ष्मण या राष्ट्रीय महासचिव मुरलीधर राव एक अनुवादक के रूप में राष्ट्रीय स्तर के नेताओं की सेवा कर लेते थे। लेकिन सीएम योगी आदित्यनाथ की रैली के लिए व्याख्या करने वाले की कोई सुविधा नहीं थी। तेलंगाना के गोशमहल से पार्टी के विधायक आमतौर पर हिंदी में बात करते हैं, लेकिन वे लोगों तक पहुंचने के लिए केवल तेलुगु बोलते हैं।