पीलीभीत जिले में लाउटस्पीकर के चलते हुई हिंसा, मंदिर में तोड़फोड़ और मूर्त‌ियों को क्षती


(Photo Credit : khabarindiatv.com)

उत्तर प्रदेश में पीलीभीत जिले के रोहानिया गाँव सांप्रदायिक हिंसा की चपेट में आ गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, भीड़ द्वारा मंदिर में दंगे, तोड़फोड़ और मूर्तियों को बाहर फेंकने के बाद से क्षेत्र में सांप्रदायिक तनाव बढ़ गया है। मंगलवार रात हुई इस घटना के बाद भीड़ ने मंदिर के लाउड स्पीकर को तोड़ दिया। पुलिस ने 5 लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज की है, लेकिन अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

रिपोर्टों के अनुसार, मंदिर गांव के बाहर स्थित है, जहां हर दिन भक्त भारी भीड़ में पूजा करने आते हैं और लाउड स्पीकरों पर धार्मिक गीत बजाते हैं। गांव में हिंदू और मुस्लिम दोनों समुदायों के लोग रहते हैं। बुधवार शाम को, भीड़ मंदिर गई और ईद के कारण लाउड स्पीकर को बंद करने के लिए कहा। मंदिर में मौजूद लोगों ने यह कहते हुए उनका विरोध किया कि नमाज़ तो गाँव में पढ़ी जाती है। गुस्साई भीड़ ने तब स्पीकर के तार काट दिये और इतना ही नहीं मूर्तियों को भी उनके स्थान से हटाकर फेंक दिया।

जब मंदिर के पुजारी ने उनका विरोध किया, तो भीड़ ने उस पर भी हमला किया। पुलिस को बुलाया गया और मूर्तियों को फिर से मंदिर में स्थापित किया गया। इस घटना के बाद गांव में तनाव देखा गया है और अतिरिक्त बल को उजागर किया गया है। पुलिस के मुताबिक, इस मामले में थाना बिसलपुर में 5 आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है। आरोपियों को गिरफ्तार करने की प्रक्रिया जारी है।