सूरत/वाराणसी।  मुम्बई से मंडुआडीह (वाराणसी) के लिए चली श्रमिक स्पेशल ट्रेन में बुधवार को दो श्रमिकों का शव मिलने से हड़कम्प मच गया। इस बीच, भदोही के दुर्गागंज थाना क्षेत्र के सरायभावसिंह गांव निवासी एक युवक की मंगलवार की रात इलाज के दौरान मौत हो जाने से भदोही में भी लोग सहमे हुए हैं। महाराष्ट्र, गुजरात से पूर्वांचल जाने वाले मौत की नींद सो जाने वालों को स्वास्थ विभाग कोरोना संदिग्ध मानकर शव को कब्जे में ले लिया।
श्रमिक स्पेशल ट्रेन संख्या 01770 बुधवार की सुबह आठ बजे मंडुआडीह (वाराणसी) स्टेशन पर पहुंची तो ट्रेन के एसएलआर बोगी व शयनयान- 15 में यात्री रो रहे थे। इसकी सूचना आरपीएफ को दी गयी । मौके पर पहुंची आरपीएफ ने देखा तो एसएलआर बोगी में एक शव पड़ा था और पास ही बैठे परिजन रो रहे थे। आरपीएफ ने इसकी सूचना उच्चाधिकारियों को दी। मौके पर पीपीई किट के साथ स्वास्थ्य विभाग के लोग पहुंचे और शव को ट्रेन से नीचे उतारा।
उधर दूसरे शव की सूचना मिली तो वहां भी विभाग के लोग पहुंचे, दोनों शव को जीआरपी ने पंचनामा कर पोस्टमार्टम को भेज दिया। एक शव की शिनाख्त 30 वर्षीय दशरथ प्रजापति के रूप में किया गया, जो दिव्यांग था। और पुरालाल थाना बदलापुर, जौनपुर का निवासी था। उसके भाई लालमनि ने बताया कि प्रयागराज में भाई की तबियत थोड़ी बिगड़ी, इसके बाद मंडुआडीह पहुंचने पर जब उसे जगाया तो वह उठा ही नही, वहीं एक दूसरे शव का शिनाख्त 63 वर्षीय राम रतन गौड़  सरहदपार पोस्ट, हाजीपुर-थाना रौनापार जिला आजमगढ़ के रूप में किया गया। आरपीएफ व जीआरपी जांच में जुट गयी है।
ट्रेन में सफर कर रहे अन्य यात्रियों का कहना था कि श्रमिकों के लिए रेलवे की ओर से सात मई से स्पेशल ट्रेन चलायी जा रही है लेकिन इसके बाद भी श्रमिकों की परेशानी दूर नही हो रही है। गलत रूट पर भटक जा रही ट्रेनों के कारण सफर कर रहे श्रमिक भूख प्यास से बेहाल हो जा रहे हैं। 25 घंटे का सफर 40 घंटों में पूरा हो रहा है।
अभोली विकास खण्ड के सरायभाव सिंह गाँव का 42 वर्षीय व्यक्ति परिजनों के साथ मंगलवार को श्रमिक ट्रेन द्वारा सूरत से भदोही पहुंचा था, तत्पश्चात मेडिकल जांच कराने के बाद निजी साधन से घर चला गया था। तबियत बिगड़ने पर परिजन ईलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सुरियावां ले गए जहां पर चिकित्सको ने हालत गम्भीर देखकर जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। महाराजा बलवन्त सिंह राजकीय चिकित्सालय में इलाज के दौरान प्रवासी व्यक्ति की मौत हो गयी। सूरत(गुजरात)से आए होने की वजह से स्वास्थ्य प्रशासन ने शव को कब्जे में ले लिया। शव की स्वैब जाँच के लिए भेज दिया गया है।