CM योगी के ऊपर FB पर पोस्ट करने वाले को गिरफ्तार करने पर जानों सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा


(Photo Credit : ANI)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर सोशियल मीडिया पर अपमानजनक वीडियो पोस्ट करने वाले पत्रकार प्रशांत कनौजिया की गिरफ्तारी को लेकर उच्चतम न्यायालय ने कड़े शब्दों में टिप्पणी की। साथ ही, अदालत ने प्रशांत कनौजिया को तुरंत छोड़ने का आदेश दिया है। मंगलवार को एक सुनवाई में, अदालत ने कहा कि एक नागरिक के अधिकारों को छीना नहीं जा सकता है। इसे बचाना जरूरी है।

अदालत ने कहा कि आपत्तिजनक पोस्ट पर विचार अलग-अलग हो सकते हैं, लेकिन गिरफ्तारी क्यों? सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत कनौजिया की पत्नी से इस मामले को उच्च न्यायालय में ले जाने को कहा।

सुप्रीम कोर्ट ने आईपीसी की धारा 505 के तहत मामले में एफआईआर दर्ज करने पर भी सवाल उठाया। कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार से पूछा कि गिरफ्तार कौनसी धारा के अंतर्गत किया गया है? जो पोस्ट किया गया है वह सही नहीं है, लेकिन इसमें गिरफ्तार करने का क्या विषय था।