नोएडा से गायब कश्मीरी छात्र के आतंकी संगठन में शामिल होने की सोशल मीडिया ने की पुष्टि


श्रीनगर निवासी एहतेशाम बिलाल सोफी (17) जो ग्रेटर नोएडा के शारदा विश्वविद्यालय में प्रथम वर्ष का छात्र था, आतंकी संगठन में शामिल हो चुका है।
IC : Twitter

नोएडा (ईएमएस)। उत्तर प्रदेश के नोएडा स्थित एक निजी विश्वविद्यालय से कश्मीरी छात्र के गायब होने की सूचना थी। सोशल मीडिया पर शुक्रवार को उस लापता कश्मीरी लड़के की तथाकथित तस्वीरों को पोस्ट किया गया, जो लापता हो गया था। पोस्ट में दावा किया गया कि वह घाटी में आतंकी समूह में शामिल हो चुका है। श्रीनगर निवासी एहतेशाम बिलाल सोफी (17) ग्रेटर नोएडा के शारदा विश्वविद्यालय में प्रथम वर्ष का छात्र था। बिलाल 28 अक्टूबर को लापता हो गया था। उसने विश्वविद्यालय से दिल्ली जाने की अनुमति ली थी।

अधिकारियों ने बताया कि ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क पुलिस स्टेशन के साथ-साथ श्रीनगर के खानयार पुलिस स्टेशन में भी उसके लापता होने को लेकर मामला दर्ज किया गया था। सोशल मीडिया पर साझा की गई तस्वीरों में सोफी काले कपड़ों में दिख रहा है और उनमें दावा किया गया कि वह आईएसआईएस के विचार से प्रभावित आतंकी समूह आईएसजेके में शामिल हो गया है।

आईजी एटीएस असीम अरुण ने बताया कि एहतेशाम बिलाल की असलहे के साथ तस्वीर शुक्रवार शाम सोशल मीडिया पर वायरल हुई। फोटो के साथ एहतेशाम ने आईएसजेके जॉइन करने की घोषणा की है। फोटो के बैकग्राउंड में आईएसआईएस का झंडा है।

आईजी ने बताया कि उसकी तलाश के दौरान सामने आया था कि उसने लापता होने के बाद एयर टिकट लिया, लेकिन प्लेन से सफर नहीं किया। लापता होने के बाद उसकी लोकेशन जम्मू-कश्मीर में मिली, लेकिन वह घर नहीं गया। यूनिवर्सिटी में उसके साथी चार अन्य कश्मीरी छात्रों से पूछताछ में उसके आतंकी संगठन में शामिल होने के सुराग मिले।

इससे पहले मंगलवार को जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह से लापता छात्र को खोजने में मदद की मांग को लेकर ट्वीट किया था। दूसरी ओर सूत्रों के मुताबिक एटीएस टीम ने लापता छात्र के मोबाइल की पिछले एक माह की कॉल डिटेल निकाली है और उसमें श्रीनगर के जिन नंबरों पर अधिक समय तक हुई बात हुई है, उनकी जांच कर रही है।