स्मृति इरानी ने की नामांकन से पहले पूजा और रैली


(Photo Credit : youtube.com)

लोकसभा चुनाव के सात चरण के लिए मतदान आज शुरू हो गया है। मतों का परिणाम 23 मई को आएगा।

केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता स्मृति ईरानी ने गुरुवार को अमेठी संसदीय क्षेत्र से नामांकन दाखिल करने से पहले पूजा और हवन किया। उनके साथ उनके पति जुबिन ईरानी भी हवन में शामिल थे।

स्मृति ईरानी ने नामांकन से पहले एक रोड शो में भी भाग लिया। स्मृति ईरानी के साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बाद में अमेठी में एक चुनावी रैली को संबोधित करेंगे। 62 किमी दूर, यूपीए (संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन) की चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने भी अपना नामांकन दाखिल करने के लिए रायबरेली में एक भव्य रोड शो किया।

पिछली बार राहुल गांधी के विरुद्व हार का सामना करने के बाद इस बार फिर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का सामना करेंगी स्मृति। राहुल ने बुधवार को अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। स्मृति पहले 17 अप्रेल को अपना नामांकन दाखिल करने वाली थी परंतु महावीर जयंती की छुट्टी के कारण वे अब गुरुवार को अपना नामांकन दाखिल करेंगी।

स्मृति ईरानी का कथन कांग्रेस नेता के निर्वाचन क्षेत्र की “उपेक्षा” को उजागर करने के लिए रहा है। राहुल गांधी के दूसरी सीट – केरल के वायनाड से चुनाव लड़ने के फैसले को सुश्री ईरानी ने अवसर के रूप में जब्त कर लिया और उन पर हमला किया यह कहकर कि घबराहट और असुरक्षा के कारण अमेठी से भाग रहे हैं।