इस राज्य में किसानों को पैट्रोल-डीज़ल उधार पर मिल सकेगा, फसल आने पर करेंगे भुगतान


प्रतिकात्मक तस्वीर। (Photo Credit : newindianexpress.com)

पंजाब के किसान जल्द ही इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड रिटेल आउटलेट में पेट्रोल और डीजल उधार में प्राप्त कर सकेंगे। इस उधार का फसल आने के बाद भुगतान करने की सुविधा दी गई है। पंजाब के सहकारिता मंत्री सुखविंदर सिंह रंधावा ने बुधवार को कहा कि राज्य सरकार ने IOCL के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं, जिसके तहत कंपनियां सहकारी संस्थाओं की खाली पड़ी जमीनों में अपने पेट्रोल पंप खोल सकेंगी, जिसमें किसानों को पेट्रोल और डीजल उधार में देने की सुविधा दी जाएगी, ताकि यदि किसान के पास कभी भी पैसा ना भी हो तो भी यह आसानी से पेट्रोल और डीजल खरीद सकेगा।

इस समझौते के तहत, खाली जमीन पर आउटलेट और पंप सहकारी संस्था, मारफेड, मिल्कफेड और ग्रामीण कृषि सोसायटी खोली जाएंगी। इसका खर्च IOCL द्वारा उठाया जाएगा। रंधावा ने कहा कि सहकारी चीनी मिलों को ही केवल इस तेल को उधार में लेने की सुविधा मिलेगी। यह आउटलेट प्राथमिक चरण में 15 स्थानों पर खोला जाएगा। इंडियन ऑयल के सुजॉय चौधरी ने कहा कि पंजाब किसानों के लिए ऐसी पहल करने वाला पहला राज्य है।

गौरतलब है कि पंजाब में कांग्रेस का शासन है और कैप्टन अमरिंदर सिंह मुख्यमंत्री बनने के बाद लगातार किसानों को लाभ के लिए योजनाएं प्रदान कर रहे हैं, जिससे लोकसभा में भी कांग्रेस को फायदा हुआ। कांग्रेस ने पंजाब में 13 में से 8 सीटें जीतीं। सबसे समृद्ध क्षेत्र के रूप में जाना जाने वाले पंजाब का मुख्य व्यवसाय खेती है, और किसानों को सरकार के इस कदम से बहुत राहत मिलेगी।