जेल में बनाई थी लूट की योजना, छूटते ही दिया अंजाम, 5 गिरफ्तार


अम्बिकापुर, । बौरीपारा गाड़ा घाट स्थित अंग्रेजी शराब दुकान के एक कर्मचारी से चार लाख 85 हजार रुपये की लूट के मामले में पुलिस ने सप्ताह भर के अंदर मामले में संलिप्त सभी पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

सरगुजा के पुलिस अधीक्षक, सदानंद कुमार ने कहा, “सात अक्टूबर की रात करीब 11.00 बजे बौरीपारा गाड़ाघाट अंग्रेजी शराब दुकान के एक कर्मचारी से दिन भर के कलेक्शन की रकम 485,180 रुपये नकद सहित एक मोटरसाइकिल, मोबाइल की लूट की घटना को अंजाम दिया गया था।

पुलिस इस मामले में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना कर रही थी। आरोपियों की धरपकड़ के लिए अलग-अलग टीमें भी बनाई गई थीं। तभी पतासाजी के दौरान मुखबिर से सूचना मिली की बौरीपारा शिकारी रोड निवासी 20 वर्षीय आकाश सोनी पुत्र विनोद सोनी असामान्य रूप से पैसा खर्च कर रहा है।”

कुमार ने कहा, “सूचना पर पुलिस टीम ने आकाश सोनी को तत्काल हिरासत में लेकर पूछताछ की। पूछताछ के दौरान उसने बताया कि मई 2018 में वह एनडीपीएस एक्ट के मामले में सिंगरौली के पचौरा जेल में निरुद्ध था।

जेल में ही उसकी पहचान थाना नवानगर ग्राम बरुआ निवासी सुनील खैरवार पुत्र शिवमंगल खैरवार, सिंगरौली थाना बैढ़न ग्राम कचनी निवासी 19 वर्षीय विक्रम साकेत पुत्र नर्मदा प्रसाद, 26 वर्षीय विनोद कुमार साकेत पुत्र भोला साकेत, सिंगरौली थाना माड़ा के ग्राम रेला निवासी 30 वर्षीय संतोष कुमार साहू पुत्र जिला लाल साहू, तथा थाना बैढ़न के ग्राम चारबोडा निवासी 25 वर्षीय आफताब पुत्र काशिम से हुई। इन सभी ने मिलकर पचौरा जेल में ही अंबिकापुर में लूट की योजना बनाई।”

पुलिस टीम ने आकाश सोनी की निशानदेही पर सिंगरौली जाकर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने सभी के पास से कुल तीन लाख 73 हजार रुपये नकद व घटना में प्रयुक्त देसी कट्टा, मोबाइल बरामद कर लिए हैं।

पुलिस ने बताया कि आफताब ने ही कट्टा खरीदकर दिया था, जिससे घटना को अंजाम दिया गया। पुलिस ने उसे भी गिरफ्तार कर लिया है।

-आईएएनएस