रातों-रात ईश्वरपुर हो गया पश्चिम बंगाल का इस्लामपुर


पश्चिम बंगाल के उत्तर दीजापुर के इस्लामपुर को अज्ञात लोगों ने रातों रात ईश्वरपुर बना दिया है।
Photo/YouTube
संघ-विहिप के दफ्तरों, गाड़ियों और स्कूलों पर इस्तेमाल किया जाने लगा नया नाम

कोलकाता । नाम बदलने को लेकर शुरू हुई राजनीति अब उत्तर प्रदेश की सीमा पार करती हुई पश्चिम बंगाल तक जा पहुंची है। पश्चिम बंगाल के उत्तर दीजापुर के इस्लामपुर को अज्ञात लोगों ने रातों रात ईश्वरपुर बना दिया है। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) और विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के स्कूल, दफ्तरों और गाड़ियों पर इस्लामपुर की जगह ईश्वरपुर लिख दिया गया है।

Photo/YouTube

संघ की ओर से संचालित स्कूलों सरस्वती शिशु मंदिर और सरस्वती विद्या मंदिर के बोर्ड पर इस्लामपुर की जगह ईश्वरपुर लिख दिया गया है। हैरानी बात है कि स्कूल के प्रिंसिपल को भी इस बात की जानकारी नहीं है कि बोर्ड पर इस्लामपुर की जगह ईश्वरपुर किसने लिखा। इतना ही नहीं स्कूल में बच्चों को लाने ले जाने वाली कैब पर भी नाम बदल दिया गया है।

स्कूल के सरकारी दस्तावेजों में नाम अभी भी इस्लानपुर ही है। इसके साथ ही विहिप के दफ्तर के बोर्ड पर भी इस्लामपुर की जगह ईश्वरपुर लिख दिया गया। इस बारे में विहिप प्रवक्ता ने बताया कि जगह का नाम ईश्वरपुर ही है।

– ईएमएस