रेलवे ट्रैक पर ऑनलाइन गेम पबजी खेल रहे दो युवक आए ट्रेन की चपेट में, मौत


पबजी ऑनलाइन गेम है जिसको खेलते हुए महाराष्ट्र के हिंगोली जिले में दो युवक ट्रेन की चपेट में आ गए और उनकी मौत हो गई।
Photo/Twitter

मुंबई । ऑनलाइन गेम कितने घातक होते है इसका अंदाजा इस बात से लगता है। कि लोग इसको खेलते वक्त इतने तन्मय हो जाते है कि उनको अपने पास के खतरे से भी अंजाम हो जाते है। पबजी ऐसा ही ऑनलाइन गेम है जिसको खेलते हुए महाराष्ट्र के हिंगोली जिले में दो युवक ट्रेन की चपेट में आ गए और उनकी मौत हो गई। पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी। एक अधिकारी ने बताया कि यह घटना शनिवार की शाम यहां से करीब 570 किलोमीटर दूर हिंगोली में हुई। उन्होंने बताया कि उनकी पहचान नागेश गोरे (24) और स्वप्निल अन्नापूर्णे (22) के रूप में हुई है। वे दोनों रेल पटरियों के पास पबजी खेल रहे थे और हैदराबाद-अजमेर ट्रेन की चपेट में आ गए।

जानकारी के अनुसार, लोगों को देर रात उनके शव मिले। इस घटना के सिलसिले में दुर्घटनावश मौत की एक रिपोर्ट हिंगोली थाने में दर्ज कराई गई है। पबजी दक्षिण कोरियाई मूल का एक ऑनलाइन गेम है और विशेषज्ञों के अनुसार इस गेम की लत लग जाती है तथा इसे खेलने वाले लोगों में हिंसक प्रवृत्ति बढ़ जाती है। पुलिस के प्रतिबंध के बावजूद कथित रूप से अपने मोबाइल फोन पर पबजी गेम खेलने के लिए पिछले दो दिनों में गुजरात के राजकोट शहर में कॉलेज के छह छात्रों समेत 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस आयुक्त मनोज अग्रवाल ने छह मार्च को एक अधिसूचना जारी कर शहर में ऑनलाइन गेम प्लेयर बैटलग्राउंड (पबजी) और ‘मोमो चैलेंज पर प्रतिबंध लगा दिया था। राजकोट जिले के पुलिस निरीक्षक वीएस वंजारा ने कहा कि पुलिस थानों को प्रतिबंध को लागू करने और इन गेमों को खेलने वालों को गिरफ्तार करने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा, मंगलवार को हमारी टीमों ने कलावाड रोड और जगन्नाथ चौक क्षेत्र में अपने मोबाइल फोनों पर पबजी गेम खेल रहे कॉलेज के छह छात्रों को गिरफ्तार किया था।

– ईएमएस