झारखंड में नक्सलियों ने रेलवे ट्रैक उड़ाया


झारखंड के गिरिडीह जिले में मंगलवार को नक्सलियों ने रेल की पटरी को विस्फोट से उड़ा दिया। इससे ग्रैंड चॉर्ड धनबाद डिवीजन पर ट्रेन सेवाएं प्रभावित हुई।

उत्तर पूर्वी रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने फोन पर आईएएनएस को बताया कि सोमवार सुबह लगभग 10.45 बजे नक्सलियों ने पारसनाथ और हजारीबाग रोड के बीच स्थित चौधरीबांध स्टेशन की पटरियों पर विस्फोटक रख दिया था।

पाकुड़ के पुलिस अधीक्षक अमरजीत बलिहर की हत्या के दो आरोपियों को मृत्यदंड की सजा दिए जाने के विरोध में नक्सलियों ने पांच जिलों में बंद का आह्वान किया था।

विस्फोट से लगभग दो फीट तक रेलवे ट्रैक क्षतिग्रस्त हो गया और सिग्नलिंग सिस्टम ने काम करना बंद कर दिया।

राजेश कुमार ने बताया कि विभिन्न स्टेशनों पर छह ट्रेनों को रोकना पड़ा। रेलवे सेवाएं तड़के 4.30 बजे बहाल हुईं।

रेलवे के निदेशक (मीडिया) राजेश दत्त बाजपेई ने नई दिल्ली में आईएएनएस को बताया, “विस्फोट से बड़ा हादसा हो सकता था लेकिन रेलवे स्टाफ मुबारक हुसैन और चंद्र कुमार की सतर्कता की वजह से यह टल गया।”

उन्होंने कहा, “दोनों रात को गश्ती पर थे। जब उन्होंने विस्फोट की आवाज सुनी तो उन्होंने तुंरत सहायक स्टेशन मैनेजर (एएसएम) को अलर्ट कर दिया, जिन्होंने क्षतिग्रस्त ट्रैक से आ रही मालगाड़ी को आगे बढ़ने से रोक दिया।”

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्विनी लोहानी ने बुधवार को राष्ट्रीय राजधानी में एक समारोह में हुसैन और कुमार को पुरस्कार देने का फैसला किया है।

–आईएएनएस