मायावती ने अपने करीबी नेता को निकाला पार्टी से बाहर, जानें क्या है वजह


(Photo Credit : indiatoday.com)

एग्जिट पोल के बाद बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने अपने करीबी नेता के खिलाफ बड़ा कदम उठाते हुए कार्रवाई की है। मायावती ने विधायक रामवीर उपाध्याय को पार्टी से निलंबित कर दिया है। लोकसभा चुनावों में पार्टी विरोधी गतिविधियों को देखते हुए रामवीर उपाध्याय के विरुद्ध यह कदम उठाया गया है।

बसपा महासचिव मेवालाल गौतम द्वारा रामवीर उपाध्याय को लिखे गए निलंबन पत्र में कहा गया है कि, रामवीर ने लोकसभा चुनावों में आगरा, फतेहपुर सीकरी और अलीगढ़ तथा अन्य लोकसभा सीटों पर बसपा उम्मीदवारों का विरोध किया, रामवीर पर आरोप लगाया गया है कि उन्होने लोकसभा चुनाव में विपक्षी दलों के उम्मीदवारों का समर्थन किया। पार्टी ने इसको अनुशासनहीनता मानते हुए तत्काल प्रभाव से रामवीर को पार्टी से निकाल दिया।

बसपा ने रामवीर को पार्टी के मुख्य पर्यवेक्षक के पद से भी हटा दिया है और कहा है कि वह भविष्य में पार्टी के किसी कार्यक्रम में भाग नहीं लेंगे और उन्हें आमंत्रित नहीं किया जाएगा।