मुंबई की 6 सीट पर 116 उम्मीदवार, अहम सवाल मुंबई का किंग कौन?


लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में महाराष्ट्र की 17 संसदीय सीटों पर 29 अप्रैल यानी सोमवार को वोट डाले जाएंगे।
(Photo Credit : Classiciasacademy.com)

मुंबई। लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में महाराष्ट्र की 17 संसदीय सीटों पर 29 अप्रैल यानी सोमवार को वोट डाले जाएंगे। इन 17 सीटों में से 6 सीटें मुंबई की हैं, जिन पर कुल 116 उम्मीदवार हैं। मौजूदा समय में ये सभी 6 सीटें एनडीए के पास हैं, जिनमें से 3 पर बीजेपी और 3 पर शिवसेना का कब्जा है। जबकि पिछले चुनाव में कांग्रेस और एनसीपी खाता भी नहीं खोल सकी थी। इस बार के बदले सियासी समीकरण में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन से कड़ी चुनौती मिल रही है। अब ऐसे में अहम सवाल है कि 2019 में मुंबई का किंग कौन होगा? गौरतलब हो कि मुंबई शहर और उपनगर 6 लोकसभा क्षेत्रों में बटा हुआ है। इसमें मुंबई उत्तर, मुंबई उत्तर पश्चिम, मुंबई उत्तर पूर्व, मुंबई उत्तर मध्य, मुंबई दक्षिण और मुंबई दक्षिण मध्य सीट है। 2011 के जनगणना के अनुसार मुंबई की कुल जनसंख्‍या 1 करोड़ 84 लाख है।

मुंबई उत्तर

बीजेपी से मौजूदा सांसद गोपाल शेट्टी मुंबई उत्तर लोकसभा सीट पर चुनावी मैदान में हैं। इस सीट पर कांग्रेस ने बॉलीवुड अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर को उतारा है। जबकि बसपा से मनोज कुमार जय प्रकाश सिंह सहित 18 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। 2014 में मोदी लहर में बीजेपी के गोपाल शेट्टी ने कांग्रेस के संजय निरुपम को मात देकर यह सीट पर बीजेपी को वापसी कराई थी। बता दें कि वर्तमान में उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाइक इस सीट से लगातार पांच बार बीजेपी से जीत दर्ज कर संसद पहुंचे थे, लेकिन 2004 में कांग्रेस ने फिल्म अभिनेता गोविंद को उतारकर बीजेपी के दुर्ग में सेंध लगाई थी। 2009 में कांग्रेस से संजय निरुपम यहां से जीते। कांग्रेस ने एक बार फिर इस सीट पर कब्जे के लिए 2004 के फॉर्मूले को अजमाया है और उर्मिला मातोंडकर को उतारकर बीजेपी के सामने कड़ी चुनौती दी है।

मुंबई उत्तर पश्चिम

शिवसेना से गजानन कीर्तिकर मुंबई उत्तर-पश्चिम लोकसभा सीट पर चुनावी मैदान में हैं, जिनके खिलाफ कांग्रेस के संजय निरुपम सहित 21 उम्मीदवार चुनावी किस्मत आजमा रहे हैं। हालांकि एक दौर में यह सीट अभिनेता से राजनेता बने सुनील दत्त की परंपरागत सीट रही है। 18 साल तक वो कांग्रेस से यहां से जीतते रहे हैं। इसके बाद इस सीट पर कांग्रेस के गुरुदास कामत ने 2009 में यहां से जीत दर्ज की, लेकिन 2014 में शिवसेना के गजानन कीर्तिकर ने कब्जा जमाया। 2019 में इस सीट पर वापसी के लिए कांग्रेस ने संजय निरुपम को उतारा है। इस सीट पर उत्तर भारतीय मतदाताओं की बड़ी तादाद को देखते हुए कांग्रेस ने बड़ा दांव खेला है। ऐसे में शिवसेना के लिए इस सीट को बरकरार रखने की बड़ी चुनौती है।

मुंबई उत्तर-पूर्व

मुंबई उत्तर-पूर्व लोकसभा सीट पर बीजेपी ने अपने मौजूदा सांसद और वरिष्ठ नेता किरीट सोमैया का टिकट काटकर मनोज कोटक पर दांव लगाया है। जबकि एनसीपी से संजय दीना पाटिल और बसपा से संजय सिंह सहित 27 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव में किरीट सौमेया ने एनसीपी के संजय पाटिल को मात देकर कब्जा जमाया था। इस सीट से कांग्रेस के गुरुदास कामत, बीजेपी के प्रमोद महाजन और किरीट सौमैया सांसद चुने जा चुके हैं। हालांकि इस बार के बदले सियासी समीकरण में बीजेपी के लिए इस सीट को बरकरार रखने की बड़ी चुनौती है।

मुंबई उत्तर मध्य

बीजेपी से प्रमोद महाजन की बेटी पूनम महाजन एक बार फिर मुंबई उत्तर मध्य लोकसभा सीट पर चुनावी मैदान में हैं, जिनका मुकाबला कांग्रेस की प्रिया दत्त से है। बसपा के इमरान मुस्तफा खान सहित 20 प्रत्याशी मैदान में हैं। 2014 में इन्हीं दोनों नेताओं के बीच चुनावी जंग हुई थी, जिसमें पूनम महाजन ने पौने दो लाख मतों से जीत दर्ज की थी। 2019 में एक बार फिर दोनों नेता आमने-सामने हैं और दोनों नेता के सामने अपने-अपने पिता की राजनीतिक विरासत को बचाए रखने की बड़ी चुनौती है।

मुंबई दक्षिण

शिवसेना ने अपने मौजूदा सांसद अरविंद सावंत को मुंबई दक्षिण लोकसभा सीट पर उतारा है, जिनका मुकाबला कांग्रेस के मिलिंद देवड़ा से है। जबकि यहां से बसपा के मिस्त्रीलाल गौतम सहित 13 उम्मीदवार किस्मत आजमा रहे हैं। इस इलाके में लंबे समय तक कांग्रेस का कब्जा रहा है, लेकिन 2014 के चुनाव में मोदी लहर में मिलिंद देवड़ा को शिवसेना के हाथों हार का मुंह देखना पड़ा था। इस बार के बदले राजनीतिक हालात में शिवसेना के लिए इस सीट को बचाए रखने की बड़ी चुनौती है। वहीं, कांग्रेस के मिलिंद देवड़ा को उद्योगपति मुकेश अंबानी और मनसे प्रमुख राज ठाकरे तक सपोर्ट कर चुके हैं।

मुंबई दक्षिण मध्य

शिवसेना ने मुंबई दक्षिण-मध्य लोकसभा सीट पर मौजूदा सांसद राहुल शेवाले को उतारा है, जिनका मुकाबला कांग्रेस के एकनाथ गायकवाड से है। बसपा के अहमद शेख सहित 17 प्रत्याशी चुनावी मैदान में है। 2014 के लोकसभा चुनाव में राहुल शेवाले ने कांग्रेस के दो बार के सांसद एकनाथ गायकवाड को हराकर संसद पहुंचे थे। हालांकि इस बार के लोकसभा चुनाव में शिवसेना के लिए यह सीट बचाए रखना बड़ी चुनौती है।

– ईएमएस