हाईटेक चोर करता है हवाई यात्रा, लूट के बाद पूजा करने जाता है मंदिर


एक हाईटेक चोर हवाई यात्रा कर, लूट के बाद पूजा करने मंदिर जाता है।
Image | Pixabay.com

अहमदाबाद। एक हाईटेक चोर हवाई यात्रा कर, लूट के बाद पूजा करने मंदिर जाता है। यह सुनकर आपको आश्चर्य हो रहा होगा लेकिन यह बात सच है। 24 साल के एक हाईटेक चोर ने पुलिस की नाक में दम कर रखा है। इस चोर के कुछ खास नियम भी हैं। यह सिर्फ पचास लाख से ऊपर की चोरी करता है। हर चोरी के बाद सबसे पहले मंदिर जाता है। यात्रा के लिए फ्लाइट से सफर करता है और मंहगे होटलों में रुकता है। चोरी करके यह वापस अपने घर लौट जाता है।

इस ‘मॉडर्न’ चोर का नाम है जयंतिलाल उर्फ रमेश खेतमल जायसवाल। यह राजस्थान के शेरगढ़ में देसू का रहने वाला है। बताया जाता है कि चोरी के बाद वह पीड़ितों को धमकी देता है कि उसके संबंध दाऊद इब्राहिम से हैं। बीते पांच वर्षों में वह सूरत के कई बड़े कारोबारियों को निशाना बना चुका है। सूरत के एक अपार्टमेंट में हाल ही में एक गृह प्रवेश का कार्यक्रम था। कार्यक्रम में कई मेहमान मौजूद थे लेकिन यह चोर यहां से 40 लाख रुपये से अधिक का सामान चोरी करके फरार हो गया। घर खाली पाकर रमेश ने चोरी के लिए लगभग पांच घंटे उस घर में बिताए।

उधर, पुलिस का कहना है कि चोरी गई सामान की कीमत और ज्यादा हो सकती है। पुलिस ने बताया कि चोर ने व्यवसायी को फोन करके खुद का नाम शंकर बताया। उसने कहा कि वह एक कमलेश यादव नाम के आदमी को घर के काम करने के लिए भेज रहा है, उसके बाद वह खुद वहां पहुंचा। उसने दोपहर लगभग साढ़े ग्यारह बजे घर में दाखिल हुआ और शाम को लगभग साढ़े चार बजे जेवर और कैश सहित कीमती सामान लेकर भाग निकला।

पुलिस ने बताया कि चोर ने रेकी के लिए अपार्टमेंट के पास ही एक बड़े होटेल में कमरा लिया था। चोरी करके वह अहमदाबाद पहुंचा और यहां एक मंदिर में पूजा करने के बाद फ्लाइट पकड़ निकल गया। पुलिस ने बताया कि शहर में अधिकांश पीड़ित परिवार राजस्थान से संबंधित हैं। वह खुद को राजस्थान का बताकर उन लोगों के साथ पारिवारिक संबंध बनाता है और फिर बाद में अपना निशाना बनाता है। उन्होंने बताया कि चार साल पहले उसने एक घर में पचास लाख की चोरी की थी। चोरी करके वह नेपाल बॉर्डर पहुंचा और यहां से देश के बाहर जाने की फिराक में था हालांकि उसे एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया गया था। जेल से छूटने के बाद उसने शहर में फिर चोरियां करनी शुरू कर दी, उसे फिर गिरफ्तार किया गया। वह फिर जमानत पर बाहर आ गया। पुलिस ने बताया कि अब वह और ज्यादा होशियार हो गया है। पकड़े जान के डर से वह चोरी का सामान न तो तत्काल बेचता है न ही शहर और आसपास बेचता है।

– ईएमएस