कोरोना: डाॅक्टर व नर्सों को धमकी देने वाले मकान मालिकों पर सख्त कार्रवाई होगी


Photo/Twitter

नई दिल्ली (ईएमएस)। दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि सुनने में आया है कि डाॅक्टर और नर्सों को कुछ मकान मालिक अपने घर से निकालने की धमकी दे रहे हैं। मकान मालिकों का कहना है कि यह डाॅक्टर्स और नर्सेंज 24 घंटे कोरोना के मरीजों के बीच रहते हैं। इसलिए इन्हें कोरोना हो गया है और अगर यहां रहेंगे तो उन्हें भी कोरोना हो जाएगा।

मुख्यमंत्री ने सख्त चेतावनी दी है कि इस तरह की शिकायतों को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। यह गलत है। उन मकान मालिकों को कहना चाहता हूं कि भगवान न करे कि कल को आपके बच्चे को कोरोना हो गया तो वह डाॅक्टर और नर्स ही काम आएंगे और कोई काम नहीं आएगा। इसलिए ऐसा मत कीजिए। यह डाॅक्टर और नर्स हमारे लिए भगवान का काम कर रहे हैं। हमारी जिंदगी बचा रहे हैं। मेरी सभी मकान मालिकों से निवेदन है कि इनको सलाम करना चाहिए, इनका शुक्रिया करना चाहिए। सारे देश को शुक्रया करना चाहिए, यह लोग बहुत अच्छा काम कर रहे हैं। अगर यह लोग संक्रमित हुए तो हम लोग इनकी सेवा करेंगे और इलाज कराएंगे। इसके बाद भी अगर कोई मकान मालिक नहीं माना तो दिल्ली सरकार ने आदेश जारी कर दिया है। दिल्ली पुलिस ऐसे मकान मालिकों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करेगी।

सभी लोगों के साथ से ही सरकार के प्रयास होंगे सफल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार ने कई स्थानों पर गरीबों के लिए खाने की व्यवस्था की है। हम 72 लाख लाख लोगों को 7.5 किलो मुफ्त राशन दे रहे हैं। हम 8.5 लाख परिवारों को पेंशन दे रहे हैं। इसके बावजूद ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो इसके दायरे से बाहर हैं। ऐसे लोग भी होंगे, जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, जिनको पेंशन नहीं मिलेगी, जो बिल्कुल भुखमरी की कगार पर होंगे। हम नहीं चाहते हैं कि वे कोरोना से तो बच जाएं, लेकिन भूखमरी के शिकार हो जाएं। दिल्ली सरकार ने कई रैन बसेरों में उनके लिए खाने का इंतजाम किया है। लेकिन अब खाना खाने वालों की संख्या बढ़ रही है। इसके लिए किसी को चिंता करने की जरूरत नहीं है। मैने आदेश दिए हैं कि ऐसे स्थानों की संख्या बढ़ाई जाए। हम विभिन्न स्थानों पर खाने का केंद्र बढ़ा रहे हैं और वहां पर भी सामाजिक दूरी का पालन किया जा रहा है। लाइन में खड़े होकर खाने वाले लोग सामाजिक दूरी का पालन कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सरकार जितना भी प्रयास कर कर ले, सरकार तब तक नहीं सफल हो सकती है, जब तक समाज और देश साथ नहीं देगा। मेरी आप सभी लोगों से विनती है कि यह बहुत पुण्य का काम है। नवरात्र का दिन चल रहा है। आप लोग ज्यादा से ज्यादा संख्या में अपने-अपने इलाके की जिम्मेदारी लीजिए। आप अपने पड़ोस के झुग्गी बस्ती और कच्ची काॅलोनी के अंदर की जिम्मेदारी लें कि इस इलाके के किसी व्यक्ति को भूखा नहीं सोने दूंगा। यह आप लोग सुनिश्चित करिए कि किसी को भूखा सोने नहीं दूंगा। जिन-जिन लोगों को भगवान ने जिंदगी में कुछ दिया है, वह सब लोग जिम्मेदारी लें कि भगवान ने दूसरों के काम आने के लिए कुछ दिया है। यह पुण्य का काम है और यही सच्ची देशभक्ति है।

इस तरह मिलेगा 1031 पर ई-पास

जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को 1031 पर फोन करना होगा। जहां उनकों अपनी डिटेज देनी होगी। डिटेल और लोकेशन के आधार पर फोन करने वाले व्यक्ति को एक वाट्सएप नंबर दिया जाएगा। वह उस नंबर पर डिटेल वाट्सएप करेगा। इसके बाद उसके वाट्सएप पर ई-पास आ जाएगा।