कोरोना : किसी भी फ्लाइट को मुंबई में लैंड करने की इजाजत नहीं


  • जनता कर्फ्यू में थम गई मुंबई की रफ्तार, हर तरफ सन्नाटा
  • थाली और ताली बजाकर लोगों ने कहा गो कोरोना गो
  • मुंबई की उपनगरीय सेवा 31 मार्च तक बंद
  • धारा १४४ लागू, जनता कर्फ्यू सुबह तक बढ़ा

मुंबई, (ईएमएस)। रविवार को मुंबई समेत महाराष्ट्र में जनता कर्फ्यू का लोग सख्ती से पालन करते नजर आये. जनता कर्फ्यू को मुंबईकरों का जमकर समर्थन मिला. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा रविवार को जनता कर्फ्यू का आह्वान करने के बाद मुंबई समेत महाराष्ट्र के सभी शहरों में इसका व्यापक असर देखने को मिला. रविवार सुबह से शाम तक मुंबई समेत नवी मुंबई, ठाणे, डोंबिवली, कल्याण, भिवंडी, उल्हासनगर, अंबरनाथ, बदलापुर समेत अन्य शहरों में सुबह से शाम तक सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा और दुकानें बंद रहीं. वहीं मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली मुंबई लोकल ट्रेनों को भी आम यात्रियों के लिए बंद कर दिया गया है. इसके अलावा ओला-उबर और मेरू जैसी ऐप बेस्ड टैक्सी सर्विसेज भी सीमित संख्या में चलाई गई. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार सुबह ७ बजे से रात ९ बजे तक जनता कर्फ्यू का एलान किया था. जिसका लोगों ने पूरी तरह से समर्थन दिया. रविवार को लोगों से खचाखच भरे रहने वाले अधिकतर इलाकों में सन्नाटा पसरा हुआ था. सड़के वीरान थी. मरीन ड्राइव, शिवाजी पार्क, चर्चगेट और मुंबई के उपनगरीय रेलवे स्टेशन समेत अन्य इलाके पूरी तरह से खाली रहा. जनता कर्फ्यू को सफल बनाने के लिए मुंबई पुलिस ने हॉलीवुड फिल्म “हैरी पोटर” का सीन जारी करते हुए मुंबई में जनता कर्फ्यू का पालन करने की अपील की. पुलिस ने लोगों को घरों में रहने की अपील करते हुए कहा कि बीमारी के फैलने और उसके नुकसान से बचाव के लिए घरों में ही रहें.

– थाली और ताली बजाकर लोगों ने कहा गो कोरोना गो

वहीं शाम ठीक पांच बजे लोगों ने अपने घरों के आगे और बालकनी में खड़े होकर पीएम मोदी के आह्वान का पालन करते हुए ५ मिनट तक थाली और ताली बजाकर गो कोरोना गो का नारा लगाया. जिसमें बच्चे, बूढ़े, नौजवान और महिलाओं ने पूरी सहभागिता दिखाते हुए एक जुटता का परिचय दिया. वहीं पुलिसकर्मियों तथा मनपाकर्मियों ने भी जो जहां थे वहीं ताली और थाली बजाकर गो कोरोना गो कहा.

– मुंबई में 31 मार्च तक बंद रहेगी लोकल ट्रेन

महाराष्ट्र में रविवार को कोरोना के 10 नए मामलों के सामने आने तथा एक शख्स की मौत की खबर के बाद मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल ट्रेन सर्विसेज को 31 मार्च तक बंद करने का ऐलान किया गया है. रेलवे की ओर से जनता कर्फ्यू के बीच मुंबई में कुल 60 पर्सेंट लोकल ट्रेनों का संचालन हुआ. इन सर्विसेज को रविवार रात 12 बजे तक ही चलाया जाएगा और इसके बाद 31 मार्च तक ये सेवाएं स्थगित रहेंगी.

– अफवाहों पर पुलिस का ऐक्शन

महाराष्ट्र में जनता कर्फ्यू के बीच पुलिस ने सोशल मीडिया पर चल रहे ऐसे मेसेज को गलत बताया है, जिनमें कहा गया है कि संडे को कोई बिना वजह बाहर घूमता मिला या दुकान खोली तो 11 हजार का जुर्माना लगेगा. सरकार ने कोरोना से जुड़ी गलत सूचनाएं सोशल मीडिया पर रोकने के लिए चेतावनी जारी करते हुए कहा कि अगर कोई ऐसा करता पाया गया, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी.

– नागपुर-पुणे में सड़क-बाजार सब बंद

नागपुर की सड़कों पर रविवार सुबह से ही किसी अघोषित कर्फ्यू जैसी स्थितियां नजर आई. नागपुर के तमाम मुख्य बाजारों में भी आम आदमी की मौजूदगी ना के बराबर रही. मुंबई, नागपुर के अलावा पुणे में भी सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा. हालांकि शनिवार से ही पुणे के रेलवे स्टेशन पर उन मजदूरों की भारी भीड़ देखने को मिल रही है, जो कि लॉकडाउन के फैसले के बाद अपने घरों के लिए लौट रहे हैं. वहीं रविवार को शहर के बिजनस हब्स से लेकर रेजिडेंशल इलाकों तक बाजार और सार्वजनिक परिवहन पूरी तरह से बंद रहा. मालूम हो कि पुणे शहर में बड़ी संख्या में आईटी कंपनियों के ऑफिस हैं. रविवार और जनता कर्फ्यू के कारण आईटी हब कहे जाने वाले शहर के प्रमुख इलाकों में सबकुछ बंद दिखा.

– धारा १४४ लागू, जनता कर्फ्यू सुबह तक बढ़ा

मुंबई में कोरोना से दूसरी मौत के बाद सीएम उद्धव ठाकरे ने राज्‍य भर में धारा 144 लगाने का ऐलान कर दिया है। इसके साथ ही उन्‍होंने जनता से अनुरोध किया है कि 22 मार्च को शुरू हुए ‘जनता कर्फ्यू’ का पालन अगले दिन सुबह तक करे। सीएम ठाकरे ने रविवार को कहा, ‘मैं सभी से अनुरोध करता हूं कि ‘जनता कर्फ्यू’ को कल सुबह तक बढ़ा दें। कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़े हैं। मेरे पास अब महाराष्‍ट्र में धारा 144 लागू करने के अलावा और कोई विकल्‍प नहीं बचा है। देश के बाहर की किसी भी फ्लाइट को मुंबई में लैंड करने की इजाजत नहीं दी जाएगी।’ इस तरह महाराष्‍ट्र में पूरी तरह से लॉकडाउन हो चुका है, केवल आवश्यक सेवाएं जैसे कि बैंक, स्टॉक एक्सचेंज आदि ही खुले रहेंगे।