बॉलीवुड की उभरती अ‎भ्रिनेत्री एंजल गिरफ्तार


बवाना में एक ‎ ‎शि‎क्षिका सुनीता की हत्या के आरोप में बॉलिवुड की उभरती अ‎भिनेत्री एंजल गुप्ता को गिरफ्तार किया गया है।
Image | angelgupta.com

बवाना में एक ‎शि‎क्षिका की हत्या का मामला

नई दिल्ली (ईएमएस)। बवाना में एक ‎ ‎शि‎क्षिका सुनीता की हत्या के आरोप में बॉलिवुड की एक उभरती अ‎भिनेत्री एंजल गुप्ता को गिरफ्तार किया गया है। सुनीता के पति मंजीत और एंजल के मुंहबोले कारोबारी पिता राजीव गुप्ता को भी गिरफ्तार किया गया है। दिल्ली में गांव के एक छोर पर हुई हत्या का एक सिरा मुंबई से जाकर जुड़ना पुलिस को भी चौंका रहा है लेकिन पति-पत्नी और ‘वो’ के त्रिकोणीय रिश्तों की उलझी कहानी का यह घिनौना सच है जिसमें पति के साथ सात फेरे लेने वाली सुनीता नाम का किरदार अब इस दुनिया में नहीं है। ‎पिछले ‎दिनों घर से 7 किलोमीटर दूर सुनीता पर गोलियां बरसा कर हत्या कर दी गई थी। इस साजिश का सच छिपा था सुनीता की लिखी एक पर्सनल डायरी व मंजीत और एंजल के मोबाइल की सीडीआर (कॉल डिटेल रिकॉर्ड) में।

सुनीता की हत्या का तानाबाना पति मंजीत, उनकी गर्लफ्रेंड और उनके मुंहबोले पिता ने बुना था। मंजीत भी मुंबई में बतौर मॉडल किस्मत आजमा चुका है। पुलिस की मानें तो 26 साल की शशि प्रभा नाम की युवती जो कि अब मॉडलिंग की दुनिया में एंजल गुप्ता के नाम से पहचानी जाती है, वह यूपी की रहने वाली है। उसकी मां दिल्ली में ही सीपीडब्ल्यूडी में कर्मचारी हैं। एंजल के पिता का काफी पहले ही निधन हो चुका है। मां को आरके पुरम सेक्टर 4 में सरकारी आवास मिला हुआ है। एंजल उर्फ शशिप्रभा कुछ समय यहां रहीं ‎फिर बॉलिवुड में किस्मत आजमाने चली गईं। मॉडलिंग की वहीं से पेज थ्री पार्टी की सिलेब्रिटी बन गईं। मुंह बोले पिता राजीव गुप्ता कारोबारी हैं। रोहिणी सेक्टर तीन में रहते हैं। साउथ एक्स में रेस्त्रां व होटल बिजनस बताया जाता है।

राजीव एंजल के घर से पारिवारिक रूप से जुड़ा हुआ है। मुंबई में फ्लैट का 50 हजार रुपए महीने के किराये का भुगतान भी राजीव करते हैं। मंजीत प्रॉपर्टी के अलावा अन्य धंधे से भी जुड़ा हुआ था। गुड़गांव के एक होटल में एंजल से मुलाकात के बाद दोनों में प्रेम-प्रसंग हुआ। उसके बाद दोनों शादी करना चाहते थे। मुंह बोली बेटी के विवाहित जीवन व सुंदर पति के लिए राजीव गुप्ता ने जिम्मेदारी निभाई। उसी ने मंजीत व एंजल की शादी कराने के बाद बेटी के रास्ते में कांटा बनी सुनीता को हटाने का इंतजाम किया। मंजीत व एंजल यही चाहते थे जिसके लिए भाड़े पर हत्यारों का इंतजाम किया और सुनीता की हत्या करा दी।