अलवर में एक और शर्मनाक हादसा आया सामने, रक्षक ही बना भक्षक


(Photo Credit : intoday.in)

राजस्थान के अलवर में सामूहिक बलात्कार की घटना देश में बहस का विषय बन गई है। इस घटना को एक सप्ताह भी नहीं हुआ है, और एक बलात्कार की घटना और सामने आई हैं। अलवर के कठूमर के एक सरकारी अस्पताल के प्रसव कक्ष में एक 108 एम्बुलेंस चालक तथा कम्पाउंडर ने एक महिला के साथ बलात्कार किया। मामला सामने आने के बाद आरोपी फरार हो गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी की खोजबीन शुरू कर दी।

रिपोर्ट में, बलात्कार पीड़िता ने पुलिस को बताया है कि वह कठुमर इलाके की निवासी है। 5 मई को, वह अपनी बहु की डिलीवरी के लिए कठुमर सरकारी अस्पताल पहुंची। वह अपनी बहु के साथ मदद के लिए मौजूद थी। 7 मई की सुबह करीब आठ बजे ड्यूटी पर मौजूद एक कंपाउंडर महिला के पास आया और प्रसुता के नाम पर कागजात बनवाने के लिए ले गया। इस बहाने महिला को डिलीवरी रूम में ले गया जहां ड्राइवर पहले से मौजूद था।

महिला जैसे ही प्रसव कक्ष के पास पहुंची, तो कम्पाउंडर ने गैलरी का गेट बंद कर दिया और उसे बिस्तर पर गिरा दिया और उसके मुंह में कपड़ा ठूस दिया और उसके साथ बलात्कार किया। कंपाउंडर ने जब बलात्कार करने की कोशिश की तो महिला ने उसे लात मार दी। रिपोर्ट के बाद, पीड़ित का चिकित्सकीय उपचार किया गया और जांच शुरू की गई।