महाराष्ट्र में ३४ हजार कैदी मतदान से रहेंगे वंचित


महाराष्ट्र के मध्यवर्ती, जिला और खुला जेल में सजा भुगत रहे ३४ हजार १०८ कैदी इस बार मतदान से वंचित रहेंगे।
Photo/Twitter

मुंबई। महाराष्ट्र के मध्यवर्ती, जिला और खुला जेल में सजा भुगत रहे ३४ हजार १०८ कैदी इस बार मतदान से वंचित रहेंगे। इसमें ३२ हजार ५१६ पुरुष और १ हजार ५९२ महिला कैदियों का समावेश है। प्राप्त जानकारी के अनुसार केंद्रीय चुनाव आयोग ने मतदान प्रक्रिया पारदर्शी करने के उद्देश्य से न्यायालय द्वारा आरोप सिद्ध हुए अपराधियों को मतदान से वंचित रखा है।

राज्य में ९ मध्यवर्ती कारागृह है उनमें येरवडा ५७४७, कोल्हापुर ११९९, मुंबई २४२०, ठाणे ३२६३, तलोजा ३०५९, औरंगाबाद १२२९, नाशिक रोड ३२६५, नागपुर २१९२ तथा अमरावती १११६ ऐसे कुल २४ हजार १७ कैदी हैं। जबकि १९ जिला कारागृह वर्ग १ में ५८६८, २३ जिला कारागृह वर्ग २ में ३९४२ तथा ९ जिला कारागृह वर्ग ३ में २८१ कैदी हैं। इसके साथ ही विशेष कारागृह, खुला कारागृह, महिला कारागृह तथा बाल सुधार गृह का भी समावेश है। बता दें कि न्यायालय के आदेशानुसार कारागृह में विभिन्न अपराधों के तहत सजा भुगत रहे कैदियों को लोकसभा, विधानसभा तथा अन्य सार्वजनिक चुनाव में खड़ा रहने का अधिकार तो है लेकिन मतदान करने का उन्हें अधिकार नहीं दिया गया है। इससे पूर्व कई कैदी जेल में रहते हुए चुनाव लड़े और विजयी हुए हैं।

– ईएमएस