अंतरराष्ट्रीय रैकेट में शामिल थी ‘हवाला क्वीन’


नई दिल्ली (ईएमएस)। 3 करोड़ रु से अधिक मूल्य के डॉलर तस्करी कर ले जाते समय पकड़ी गई जेट एयरवेज की एयर होस्टेस वैश्विक हवाला रैकेट में शामिल थी। डीआरआइ की पूछताछ में इस बात का खुलासा हुआ है। डीआरआइ ने कहा कि पूछाताछ के दौरान यह तथ्य सामने आया है कि यह महिला अंतरराष्ट्रीय हवाला रैकेट में शामिल थी। वह कई बार दिल्ली के एक हवाला कारोबारी के लिए विदेशी मुद्रा ला चुकी थी। उल्लेखनीय है कि डीआरआइ के अधिकारियों ने हांगकांग जा रही एक फ्लाइट से सोमवार को इस महिला को गिरफ्तार किया था। इसकी छानबीन करने पर अधिकारियों ने 4.8 लाख डॉलर एक अल्युमिनियम फॉइल में पकड़े थे। इनका मूलय करीब सवा तीन करोड़ रुपये है। एयर होस्टेस ने खाने के पैकेट में अमेरिकी डॉलर्स भरे थे। नोटों के बंडल को एल्यूमीनियम फॉयल में लपेटकर बैग में इस तरह छिपा रखा था कि वह कोई खाद्य पदार्थ की तरह लगे। डीआरआइ सूत्रों का कहना है कि दिल्ली के जिस हवाला कारोबारी के लिए यह महिला काम करती थी उसकी पहचान अमित मल्होत्रा के रूप में की गयी है। मल्होत्रा दिल्ली के विवेक विहार में रहता है और वह एयरलाइन के क्रू मेम्बर्स का इस्तेमाल विदेशी मुद्रा की तस्करी के लिए करता था। डीआरआइ ने मल्होत्रा को भी गिरफ्तार किया है। उसके पास से 3.3 लाख रुपये तथा 2500 डॉलर बरामद किए गए हैं। हवाला कारोबारी अमित ने फ्लाइट में ही एयर होस्टेस से दोस्ती की थी। अमित ने एयर होस्टेस को हवाला का पैसा ले जाने के लिए मनाया था। यह भी पता चला कि एयर होस्टेस दो महीने में सात बार पैसा देश से बाहर ले जा चुकी है। देश से बाहर ले जाई गई रकम लगभग 10 लाख यूएस डॉलर है। डायरेक्ट्रेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस ने खुफिया सूचना के बाद एक्शन लिया था। एयर होस्टेस ने कबूल किया है कि वो पूरी रकम का 50 प्रतिशत कमीशन के तौर पर लेती थी। ऐसा काफी समय से चल रहा था। बीते दो महीने से एयर होस्टेस फ्लाइट से लगातार पैसा भेज रही थी। आरोपी एयर होस्टेस के ससुर हैं डिफेंस से रिटायर्ड अधिकारी हैं और पिता एलआईसी में एक बड़े अधिकारी हैं। एक साल पहले एयर होस्टेस ने लव मैरिज की थी।