दिल्ली के द्वारका होटल में आग लगने से एक महिला समेत 2 की मौत

(Photo Credit : IANS)

दमकल की आठ गाड़ियों ने मिलकर बुझाई आग, छह लोग हुये गंभीर रूप से घायल

नई दिल्ली, 15 अगस्त (आईएएनएस)| दिल्ली के द्वारका इलाके में रविवार को चार मंजिला होटल में आग लगने की घटना में एक महिला समेत दो लोगों की मौत हो गई और छह लोग गंभीर रूप से झुलस गए। दमकल विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, द्वारका के दक्षिण-पश्चिम इलाके में स्थित 'श्री कृष्णा होटल' के भूतल पर सुबह करीब साढ़े सात बजे आग लग गई।
दिल्ली फायर सर्विस के निदेशक अतुल गर्ग ने कहा, "होटल के तहखाने में आग लगी, जो चार मंजिला इमारत है और 80 वर्ग गज क्षेत्र में फैली हुई है। दो बुरी तरह से जले हुए शव बरामद किए गए हैं, जबकि छह और लोग भी झुलस गए हैं।" गर्ग ने आईएएनएस को बताया कि छह में से तीन लोग गंभीर रूप से झुलस गए हैं, जिनमें से एक को सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जबकि दो को आयुष्मान अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
दिल्ली पुलिस ने कहा कि इमारत का स्वामित्व झारखंड के रांची के सिद्धार्थ और करुणा के पास है, लेकिन होटल श्री कृष्णा सुनील गुप्ता द्वारा चलाया जा रहा था, जिन्होंने इसे आगे दशरथ पुरी के हर्षित को सौंप दिया था। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, "जब पुलिस मौके पर पहुंची, तो होटल के कर्मचारियों में से कोई नहीं था। इसके बाद, एफएसएल और अपराध दल को भी मौके पर बुलाया गया। आग बुझाने के बाद, एक महिला सहित दो शव सीढ़ियों पर पाए गए। दोनों शवों को दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया।"
पुलिस ने कहा कि प्रारंभिक जांच से पता चला है कि एक ही होटल पर दिल्ली पुलिस अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत दो बार पहले भी मुकदमा चलाया जा चुका है और भारतीय दंड संहिता की धारा 188 (लोक सेवक द्वारा विधिवत आदेश की अवज्ञा) के तहत भी मामला दर्ज किया गया था। उन्होंने बताया कि आग पर काबू पाने के लिए दमकल की आठ गाड़ियां मौके पर पहुंचीं। अधिकारी ने आगे बताया कि विभाग को रविवार तड़के करीब साढ़े सात बजे आग लगने की घटना की सूचना मिली और दमकल की आठ गाड़ियां मौके पर भेजी गईं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें