टोक्यो ओलंपिक्स 2020 : भारतीय महिला हॉकी टीम के ऐतिहासिक जीत के बाद पुरे देश को है इस रियल लाइफ ‘कबीर खान’ से बहुत उम्मीद

(Photo Credit : twitter.com)

जीत के साथ ही सोशल मीडिया यूजर्स ने महिला हॉकी टीम के कोच जोर्ड मरीन की तुलना फिल्म 'चक दे इंडिया' के अभिनेता शाहरुख खान से करना शुरू कर दिया

आज भारतीय महिला हॉकी टीम ने टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुंचकर इतिहास रच दिया है। भारतीय टीम ने क्वार्टर फाइनल में तीन बार के ओलंपिक चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को 1-0 से हराया। इस जीत के साथ ही सोशल मीडिया यूजर्स ने महिला हॉकी टीम के कोच जोर्ड मरीन की तुलना फिल्म 'चक दे इंडिया' के अभिनेता शाहरुख खान से करना शुरू कर दिया। इसके जवाब में शाहरुख खान ने भी रचनात्मक अंदाज में जवाब दिया और महिला टीम से गोल्ड मेडल लाने की अपील की. आपको बता दें कि 2007 में भारतीय महिला हॉकी के संघर्ष को प्रदर्शित करते हुए एक फिल्म ‘चक दे इंडिया’ सिनेमाघरों में आई थी। शाहरुख ने इस फिल्म में कबीर खान की भूमिका निभाई।
आपको बता दें कि महिला हॉकी टीम की जीत के बाद कोच ने सोशल मीडिया पर एक फोटो शेयर की, जिसमें उन्होंने लिखा, "सॉरी फैमिली, मैं जल्द ही वापस आऊंगा।" इस फोटो में भारतीय महिला हॉकी टीम को कोच सोयार्ड के साथ दिखाया गया है।
सोशल मीडिया पर यूजर्स कहने लगे कि रील की कहानी असल जिंदगी में भी सामने आ रही है। भारतीय महिला टीम के सबसे बुरे समय में कोच जारेड मारिजने ने भी अहम भूमिका निभाई। उन्होंने, फिल्म चक दे इंडिया के अभिनेता शाहरुख खान की तरह, टीम के प्रत्येक खिलाड़ी के साथ चर्चा करके मैच से एक दिन पहले एक गेम प्लान बनाया। इस अहम मैच के पहले जारेड मारिजन ने कहा "यह मत सोचो कि ऑस्ट्रेलियाई टीम कितनी मजबूत है, लेकिन अपने मजबूत क्षेत्र पर ध्यान दो।"
अब फैंस के बाद शाहरुख खान ने भी महिला हॉकी टीम का उत्साह बढ़ाया। वायरल पोस्ट में लोग शाहरुख खान को याद कर रहे थे और भारतीय हॉकी कोच को इस समय रियल लाइफ को रियल बनाने की बात कह रहे थे। सोशल मीडिया पर फैंस के इस तरह के रिएक्शन का जवाब देते हुए उन्होंने महिला हॉकी टीम के कोच जोर्ड मरीन के पोस्ट को रीट्विट करते हुए कहा, 'हां, हां, कोई बात नहीं, घर लौटने पर बस सोना लेकर आ जाना। साथ ही दिलचस्प बात यह है कि इस साल धनतेरस भी नवंबर के दूसरे दिन ही आएगा। (शाहरुख खान का जन्मदिन) FROM: पूर्व कोच कबीर खान '
भारतीय कोच ने महिला टीम से कहा कि ऑस्ट्रेलियाई टीम की कमजोरी पर ध्यान दें और फिर उसी के आधार पर आक्रामक गेम प्लान बनाएं। आपने पिछले विश्व कप की फाइनल टीम आयरलैंड को भी हराया है। अभी हमारे पास जीत की लय है, जो ऑस्ट्रेलियाई टीम पर और दबाव बनाएगी। भारतीय कोच मारिजने देश में महिला हॉकी पर आधारित फिल्म चक दे इंडिया की प्रशंसक हैं। उन्होंने 2 दिन पहले ही कहा था "मैं इस टीम में शामिल होने के बाद से अपने अनुभव लिख रहा हूं। मुझे उम्मीद है कि मेरा चक डे मोमेंट भी आएगा और हमारी टीम ऐतिहासिक सफलता हासिल करेगी।"
मैच की बात करें तो ऑस्ट्रेलिया की महिला टीम ओलंपिक में सर्वश्रेष्ठ डिफेंडर थी। ऑस्ट्रेलिया ने पूल चरण के पांच मैचों में सिर्फ एक गोल खाया था। साथ ही उनकी टीम ने कुल 13 गोल किए। दूसरी ओर, भारतीय टीम पूल चरण में कुल 14 गोल खाते हुए केवल 7 गोल करने में सफल रही थी।
अब भारतीय महिला हॉकी टीम 4 अगस्त को सेमीफाइनल में अर्जेंटीना से भिड़ेगी। दुसरे क्वार्टरफाइनल मैच में अर्जेंटीना ने जर्मनी को 3-0 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें