'अपने पति की हत्या कैसे करें' उपन्यास लिखने वाली लेखिका का सनसनीखेज राज

उपन्यासकार के खिलाफ ही अपने पति की हत्या करने का जुर्म साबित हो गया

अमेरिका में एक उपन्यास लिखी गई थी जिसका शीर्षक था 'अपने पति की हत्या कैसे करें!' इस उपन्यास को लिखने वाली लेखिका का नाम है नैंसी क्रैंपटन ब्रोफि जिनकी उम्र 71 वर्ष है। इस उपन्यासकार की लिखी किताब का शीर्षक जितना रोचक और आकर्षक प्रतीत होता है वैसा ही उनके जीवन का एक कालखंड भी। पुलिस ने यह रहस्य उद्घाटन किया है कि वर्ष 2018 में नैंसी ने अपने पति की हत्या कर दी थी। अदालत ने उन्हें विगत बुधवार को इस अपराध का दोषी पाया है।
पुलिस ने मीडिया को बताया है कि नैंसी ने अपने पति डेनियल ब्रोफी की हत्या और एगन कलरी इंस्टिट्यूट में की थी जहां वे शेफ के रूप में सेवारत थे। 2 जून 2018 को नैंसी इंस्टिट्यूट पहुंची थी और अपने पति को किचन में ही 2 गोलियां दागकर मौत के घाट उतार दिया था। वारदात के बाद में वहां से चली गई थी। इंस्टीट्यूट के छात्रों ने जब डेनियल का शव किचन में पड़ा देखा तब पूरा मामला उजागर हुआ। नैंसी कॉलेज के सीसीटीवी में कैद हो गई थी और तभी से उन पर शक पैदा हुआ था।
रिपोर्ट के अनुसार नैंसी ने यह हत्या अपने पति के इंश्योरेंस के पैसों को हासिल करने के लिए की थी। पति के मरने के बाद नैंसी को 11 करोड रुपए मिलते। नैंसी ने जिस बंदूक से गोली चला कर अपने पति को मारा था, उस बंदूक के हिस्से भी उन्होंने टुकड़ों टुकड़ों में जमा किए थे।
इस पूरे घटनाक्रम का एक रोचक पहलू यह भी है कि नैंसी ने जो उपन्यास लिखा था जिसमें ‘अपने पति की हत्या कैसे करें’ विषय के बारे में जिक्र किया गया था, उसमें भी उन्होंने बंदूक को टुकड़ों टुकड़ों में हासिल करने का जिक्र किया है। हत्या के आरोप के बाद बचाव पक्ष ने अदालत ने यह दलील दी कि नैंसी चुंकि उपन्यास लिख रही थी, तो वह उस उपन्यास में उस महिला के किरदार को अनुभव करना चाहती थी और इसीलिए उन्होंने बंदूक के हिस्सों को जुटाया। बचाव पक्ष का कहना था कि नैंसी और डेनियल में बहुत प्यार था और वे 25 वर्षों से बड़े प्रेम पूर्वक रह रहे थे। नैंसी को अपराधी घोषित किए जाने के बाद बचाव पक्ष ने कहा है कि वे ऊपरी अदालत में अपील करेंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें