सूरत : मेगा टेक्सटाइल पार्क के लिए नवसारी के वांसी गांव में जमीन का किया सर्वे

जीआईडीसी को 96 लाख वर्ग मीटर सरकारी जगह बताई गई

दिवाली पूर्व केंद्रीय मंत्रालय द्वारा प्रधानमंत्री मेगा इन्वेस्टमेंट टेक्सटाइल पार्क प्रोजेक्ट की गाइडलाइन जारी की गई थी। जिसके तहत प्रथम मांगरोल के बाद भरूच के कंटियाजाल और जंबूसर के बाद अब नवसारी के वांसी गांव में सर्वे शुरू किया गया है। उद्यमियों के मुताबिक 96 लाख वर्ग मीटर सरकारी जमीन में से 40 लाख वर्ग मीटर जगह में पार्क आसानी से साकार हो सकता है।
केंद्रीय कपड़ा मंत्रालय द्वारा घोषित किए गए प्रधानमंत्री मेगा इन्वेस्टमेंट टेक्सटाइल पार्क प्रोजेक्ट के तहत देश में प्रथम पार्क के लिए सूरत में मंजूरी मिले इसलिए उद्यमी एडीचोटी का जोर लगा रहे है। चैंबर ऑफ कॉमर्स द्वारा पहले जिला कलक्टर और मनपा आयुक्त को सूरत में टेक्सटाइल पार्क के लिए जगह आवंटित करने की मांग कर चुका है। गौरतलब है कि प्रोजेक्ट के तहत टेक्सटाइल की इको सिस्टम यानि कि यार्न से लेकर कपड़ा तैयार करने की सभी प्रोसेस होती होगी उसका समावेश किया जाएगा। इसमें करीबन 1 हजार एकड़ से ज्यादा जमीन का अंदाज है।
 पूर्व में इस प्रोजेक्ट के लिए भरूच के कंटियाजाल और जंबूसर और सूरत के मांगरोल में जमीन के लिए सर्वे किया गया था। हालांकि अब नवसारी के वांसी गांव में सर्वे किया जा रहा है। वांसी गांव में 96 लाख वर्ग मीटर सरकारी जमीन जीआईडीसी विभाग को बताई गई है। और इस मुद्दे पर अगले दिनों में निर्णय लिया जाएगा। उद्यमियों के मुताबिक वासी सूरत से निकट होने से मेगा प्रोसेसिंग इकाईयां स्थापित करने के लिए अच्छा रहेगा।
चैंबर के प्रमुख आशीष गुजराती ने बताया कि नवसारी निकट वांसी गांव की 96 लाख वर्ग मीटर जगह में पार्क बन सकता है। सूरत निकट जगह होने से अन्य गाइडलाइंस का भी पालन हो सकता है। इसके अलावा 96 लाख में से पार्क के लिए 40 लाख वर्ग मीटर जगह पर्याप्त होगी। इसके लिए जीआईडीसी विभाग को सूचित किया गया है और उनके द्वारा जगह का निरीक्षण भी पिछले सप्ताह किया गया।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें