सूरत : मेयर हेमालीबेन बोघावाल ने मां को खोने वाली 10 वर्षीय केन्वीशा को लिया गोद

दत्तक ली बच्ची के साथ भोजन करती मेयर हेमालीबेन बोघावाल

पांच चरण के सेवा सेतु में सूरत महानगर पालिका ने 72 सेवा सेतु आयोजित कर 1.55 नागरिकों को घर के पास योजना की सेवाएं प्रदान की : मेयर हेमालीबेन

 मुख्यमंत्री  विजयभाई रूपाणी एवं उपमुख्यमंत्री  नितिनभाई पटेल के नेतृत्व में राज्य सरकार के पांच वर्ष पूरे होने के अवसर पर 2 अगस्त को कतारगाम सामुदायिक भवन में ''राज्य सरकार के पांच वर्ष सबका साथ, सबका विकास के तहत महापौर हेमालीबेन बोघावाला, विधायक विनुभाई मोरडिया तथा मनपा आयुक्त बंच्छनिधिपानी की उपस्थिति में “संवेदना दिवस” के तहत सेवा सेतु का कार्यक्रम आयोजित किया गया।
 इस अवसर पर महापौर ने कहा कि राज्य के संवेदनशील मुख्यमंत्री ने पिछले पांच वर्षों के दौरान सभी लोगों की भलाई के लिए कई संवेदनशील निर्णय लिए हैं। सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय के मंत्र के साथ मुख्यमंत्री ने कोरोना काल में अपने माता-पिता की छत्रछाया खो चुके बच्चों की मदद करने, श्रमिक अन्नपूर्णा योजना, वैवाहिक प्रसंगों पर गरीब परिवारों को रियायती दरों पर एसटी की  सुविधा उपलब्ध कराने जैसे कई फैसले लेकर सच्ची संवेदनशीलता दिखाई है। पिछले पांच चरणों में पालिका ने 72 सेवा सेतु का आयोजन कर 1.55 लाख नागरिकों को घर के पास योजना का लाभ उपलब्ध कराया है। अमरोली क्षेत्र में रहते परमार परिवार की 10 वर्षीय पुत्री केन्वीशा ने कोरोना के कारण माता की छत्रछाया खोया है। जबकि पिता का साढ़े 3 साल पूर्व ही कैंसर से निधन हो गया था। केन्वीशा हाल में कक्षा 6 में अध्ययन करती है। सोमवार को सेवा सेतु कार्यक्रम के दौरान मेयर हेमाली बोघावाला ने केन्वीशा के साथ भोजन लेते समय पूछा कि तुम्हे क्या बनना है तो केन्वीशा ने खुशी के साथ कहा कि मुझे तो कलेक्टर बनना है। जिससे बच्ची की दृढ इच्छा एवं आंखों में भविष्य के सपनों को देखकर मेयर ने तत्काल निर्णय कर केन्वीशा के स्वास्थ्य एवं आगे की पढ़ाई की सभी जवाबदारी में सहायक होने का निर्णय किया। 
इस अवसर पर विधायक विनुभाई मोरडिया ने कहा कि राज्य सरकार ने सेवा सेतु के माध्यम से राज्य के नागरिकों की समस्याओं को मौके पर ही हल करने के लिए अनूठी सेवा यज्ञ की शुरुआत की है।  उन्होंने कहा कि एक ही स्थल पर 57 योजनाओं का लाभ  मिलने से लोगों को विभिन्न कार्यालयों में जाने में समय की बचत की है।
 इस अवसर पर स्थायी समिति के अध्यक्ष  परेशभाई पटेल,  आयुक्त बंछनिधिपानी ने प्रसंगिक भाषण दिया। सेवा सेतु पर बड़ी संख्या में नागरिक अपने प्रश्नों के समाधान के लिए उपस्थित थे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें