सूरत : ई-वाहन सब्सिडी पाने में भी सबसे आगे 5732 चालकों को मिले 12 करोड़

मनपानी ई-वाहन पर कर छूट को भी प्रोत्साहित किया गया

अहमदाबाद से ज्यादा सूरत आरटीओ में 6226 ई-वाहनों का रजिस्ट्रेशन

साल 2018 में सिर्फ 3 वाहनों का ही रजिस्ट्रेशन हुआ था
देश भर के स्मार्ट शहरों में अग्रणी सूरत अब ई-वाहन खरीदने में आगे है। इतना ही नहीं सूरतियों ने भी राज्य में ई-वाहनों पर सरकारी सब्सिडी का अधिकतम लाभ उठाया है। जुलाई 2021 से अब तक के 10 महीनों में 5732 वाहन मालिकों के खाते में 12 करोड़ 65 लाख रुपये की सब्सिडी आ चुकी है।
1 जुलाई 2021 से 31 मार्च 2022 तक सूरत आरटीओ में 6226 ई-वाहन पंजीकृत किए गए जो अहमदाबाद में पंजीकृत 4623 से अधिक ई-वाहन हैं। वर्ष 2018 में बमुश्किल 3 ई-वाहनों का पंजीकरण हुआ था।सरकार की नीति का पालन करते हुए लोगों में ई-वाहन खरीदने के लिए जागरूकता है। वर्तमान में शहर में 30 से अधिक डीलर ई-वाहन बेच रहे हैं।
निगम ने ई-वाहन नीति लागू होने के पहले वर्ष में 100 प्रतिशत, दूसरे वर्ष में 75 प्रतिशत और तीसरे वर्ष के साथ-साथ चौथे वर्ष में अंतिम तिथि तक 50 प्रतिशत सड़क कर छूट देने का निर्णय लिया है। नीति के।
सूरत में श्रेणी के अनुसार पंजीकृत ई-वाहन इस प्रकार है। बाइक / स्कूटर 4305, मोपेड 1541, कारें 233, मोटर कैब 07, बस 27, ई-रिक्शा 09, तिपहिया ( गुड्स) 72, थ्री व्हीलर ( पेसेन्जर) 31

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें