तो अब एअरपोर्ट पर प्रशिक्षित कुत्ते ही खोज निकालेंगे कोरोना संक्रमित यात्री

फ़िनलैंड में हेलसिंकी विश्वविद्यालय और अस्पताल के शोधकर्ताओं ने 2020 में चार कुत्तों को प्रशिक्षित किया, कुत्तों द्वारा किए गए कोरोना टेस्ट के पॉजिटिव केस की सटीकता 92 प्रतिशत थी जबकि निगेटिव केस की सटीकता 91 प्रतिशत थी

हाल ही में सामने आये एक दावे के अनुसार ट्रेंड स्निफ़र या खोजी कुत्ते हवाईअड्डे पर हवाई यात्रा के दौरान कोविड-19 वायरस से संक्रमित व्यक्ति का पता लगा सकेंगे। इस रिपोर्ट के मुताबिक, ये प्रशिक्षित कुत्ते सार्स-सीओवी-2 से संक्रमित हवाई यात्रियों का ठीक से पता लगा सकते हैं। यह कोविड संक्रमण का पता लगाने का एक महत्वपूर्ण तरीका है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह न केवल संक्रमण के शुरुआती चरणों में बीमारी के बारे में जानकारी प्राप्त करने में बल्कि महामारी को नियंत्रित करने में भी प्रभावी है।
अध्ययन की एक और महत्वपूर्ण खोज यह है कि ये कुत्ते कोरोना के अल्फा वेरिएंट की सही पहचान करने में कम सफल रहे क्योंकि उन्हें कोरोना की उत्पत्ति का पता लगाने के लिए प्रशिक्षित किया गया था। यह साबित करता है कि कुत्ते कितनी अच्छी तरह विभिन्न प्रकार की गंधों का पता लगाने में सक्षम हैं। कुत्ते विभिन्न कार्बनिक यौगिकों का पता लगाने में सक्षम होते हैं जो शरीर में विभिन्न चयापचय प्रक्रियाओं के दौरान जारी होते हैं, जिसमें बैक्टीरिया, वायरल और परजीवी संक्रमण द्वारा उत्पादित यौगिक शामिल हैं।
आपको बता दें कि फ़िनलैंड में हेलसिंकी विश्वविद्यालय और हेलसिंकी विश्वविद्यालय अस्पताल के शोधकर्ताओं ने SARS-CoV-2 को सूंघने के लिए 2020 में चार कुत्तों को प्रशिक्षित किया। इनमें से प्रत्येक कुत्ते को पहले ड्रग्स या खतरनाक पदार्थों या कैंसर की पहचान करने के लिए प्रशिक्षित किया गया था। इन कुत्तों के प्रशिक्षण के लिए, 420 स्वयंसेवकों ने प्रत्येक कुत्ते को अपनी त्वचा का नमूना दिया। इन चार कुत्तों ने प्रत्येक स्वयंसेवकों में से 114 से त्वचा के नमूने सूँघे और पीसीआर स्वाब परीक्षण सोर्स-कोव -2 सकारात्मक निकला, जबकि 306 नकारात्मक आये।
कोरोना टेस्ट के लिए सात टेस्ट सेशन में हर कुत्ते को अलग-अलग नमूना सुंघाया गया। इतना ही नहीं इन कुत्तों द्वारा किए गए कोरोना टेस्ट के पॉजिटिव केस की सटीकता 92 प्रतिशत थी जबकि निगेटिव केस की सटीकता 91 प्रतिशत थी। सितंबर 2020 और अप्रैल 2021 के बीच, फिनलैंड के हेलसिंकी-वेंटा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आने वाले 303 यात्रियों को सूंघने के लिए चार कुत्तों को तैनात किया गया था। प्रत्येक यात्री का पीसीआर परीक्षण भी किया गया और इसकी तुलना खोजी कुत्ते के परीक्षण के परिणाम से की गई। इस प्रकार के परीक्षण में 296 खोजी परिणाम समान थे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें